स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

पंजाब में आईबीएम और सिसको द्वारा पीपीपी मोड पर बनाएंगे सैंटर आफ एक्सीलैंस

Yuvraj Singh Jadon

Publish: Jun 01, 2017 12:44 PM | Updated: Jun 01, 2017 12:44 PM

Faridkot

पंजाब सरकार द्वारा सूचना टैक्रोलोजी के क्षेत्र में विश्व स्तरीय कंपनियां आईबीएम और सिसको के साथ सांझेदारी से राज्य

चंडीगढ़। पंजाब सरकार द्वारा सूचना टैक्रोलोजी के क्षेत्र में विश्व स्तरीय कंपनियां आईबीएम और सिसको के साथ सांझेदारी से राज्य मेंं सैंटर आफ एक्सीलैंस खोले जाएगें। आज यहां दोनों आईटी ग्रुपों के प्रतिनिधियों के साथ बैठक के पश्चात जानकारी सांझी करते हुये पंजाब के तकनीकी शिक्षा मंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने बताया कि दोनों पक्षों ने पीपीपी विधि द्वारा सैंटर आफ एक्सीलैंस खोलने के लिए सैद्धांतिक सहमति देते हुये इस प्रोजैक्ट के पहले फेज में एक सैंटर खोलने की हामी भरी है।

चन्नी ने आगे बताया कि सूचना टैक्रोलोजी और तकनीकी शिक्षा के क्षेत्र की दोनों प्रसिद्ध कपंनियों द्वारा पंजाब सरकार के साथ सांझेदारी से सैंटर खोलने संबधी प्रस्ताव पेश किये गये है। उन्होने बताया कि दोनों कपंनियों को कहा गया है कि इस प्रोजैक्ट को वास्तविक रूप देने के लिए विस्तारपूर्वक प्रोजैक्ट रिपोर्ट तैयार करके शीघ्र भेजी जाए ताकि मुख्यमंत्री स्तर पर इनकी स्वीकृति ली जा सके।

तकनीकी शिक्षा मंत्री ने बताया कि इन सैंटरों को माडल सैंटरों के रूप में विकसित किया जाएगा इस स्कीम के तहत राज्य के माझा,मालवा, दुआबा और पुआध क्षेत्रो में एक-एक सैंटर खोला जाएगा। उन्होंने कहा कि इस माडल की सफलता के बाद राज्य के निजी तकनीकी शिक्षा संस्थानों में बेहतर शिक्षा प्रदान करने के लिए इस माडल को लागू करना अनिवार्य किया जाएगा।

चन्नी ने बताया कि सैद्धातिक तौर पर यह सहमति जताईगई है कि पंजाब सरकार द्वारा यह सैंटर खोलने के लिए बुनियादी ईमारती ढांचा उपलब्ध करवाया जाएगा और निजी अदारों द्वारा इन सैंटरों में शेष तकनीकी ढांचा और फैक्लटी सेवाएं स्थापित की जाएगी।