स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

विहिप नेता चम्पत राय ने कोर्ट में चल रही राम मंदिर की सुनवाई को लेकर दिया अब तक का सबसे बड़ा बयान

Anoop Kumar

Publish: Nov 12, 2018 15:06 PM | Updated: Nov 12, 2018 15:06 PM

Faizabad

अयोध्या में बोले चम्पत राय जब चाहेंगे लाखों रामभक्त हो जायेंगे इकठ्ठा मंदिर निर्माण के लिए आधे से ज्यादा पत्थरों की तराशी हो चुकी है पूरी

अयोध्या : रामनगरी अयोध्या में राम मंदिर निर्माण की मांग को एक बार फिर मुखर अंदाज़ में उठाने जा रही विहिप के नेताओं ने अयोध्या में 25 नवम्बर को आयोजित होने वाले राम भक्त महासम्मेलन से पहले ही बयानबाजी तेज़ कर दी है | ताज़ा मामले में विश्व हिंदू परिषद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष चंपत राय ने राम मंदिर मुकदमे में विपक्ष के पक्षकारों पर बड़ा आरोप लगाया है | चम्पत राय ने अयोध्या में कहा है कि साजिश के तहत इस मुकदमे को छल कपट से लंबा खींचा जा रहा है वरना अब तक कोर्ट इस मामले पर अपना निर्णय सूना चुका होता | अब हिन्दू समाज इस मुद्दे को लेकर और प्रतीक्षा नहीं कर सकता | रामनगरी में कार्तिक पूर्णिमा मेले के दौरान होने वाले राम भक्त महासम्मेलन लिए भूमि पूजन के मौके पर चंपत राय ने कहा कि अयोध्या में राम मंदिर न बनने से हिंदू समाज आह्लादित और आक्रोशित उठा उठा है। इसी का परिणाम है कि 25 नवंबर को अयोध्या में संत सभा हो रही है।अगर राम मंदिर निर्माण का मार्ग प्रशस्त हो गया होता तो शायद ऐसी संत सभा की जरूरत नहीं होती। चंपत राय ने कहा कि हिंदुस्तान को हिंदुओं के प्राथमिकताओं को समझना होगा।

अयोध्या में बोले चम्पत राय जब चाहेंगे लाखों रामभक्त हो जायेंगे इकठ्ठा मंदिर निर्माण के लिए आधे से ज्यादा पत्थरों की तराशी हो चुकी है पूरी

पत्रकारों से बात करते हुए बेहद गर्म तेवरों में श्री राय ने कहा कि राम मंदिर के लिए संत महंत और हिंदू समाज 500 साल से संघर्ष कर रहा है। राम मंदिर निर्माण के लिए आधे से ज्यादा पत्थरों की तराशी भी हो चुकी है। जिस सर्वोच्च न्यायालय से न्याय की अपेक्षा है वही न्याय से बच रहा है।सर्वोच्च न्यायालय सुनवाई को टाल रहा है इससे विश्व हिंदू परिषद को चोट पहुंची है। चंपत राय ने कहा कि सर्वोच्च न्यायालय की प्राथमिकता में राम मंदिर है ही नहीं। सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई शुरू होने पर चंपत राय ने कहा कि यह मुकदमा सितंबर 2018 को ही समाप्त हो चुका होता | लेकिन इसे लोकसभा चुनाव तक खींचकर लाया गया। इशारों में कांग्रेस पर आरोप लगाते हुए चंपत राय ने कहा कि छल कपट से इस मुकदमे को खींचकर लोकसभा चुनाव तक लाया गया। चेतावनी देते हुए चंपत राय ने कहा कि 20 दिन की तैयारी में एक लाख हिंदू अयोध्या पहुंच सकता है और 9 दिसंबर को 5 लाख हिंदू दिल्ली में। राम मंदिर आंदोलन की अलख जगाने के लिए चंपत राय ने कहा कि देश के 500 स्थानों पर राम मंदिर निर्माण के लिए सभाएं की जाएंगी और हिंदू समाज का नव युवा गांव गांव जाकर राम मंदिर निर्माण की अलख जगाएगा। चंपत राय ने आज विश्व हिंदू परिषद के नेताओं व कार्यकर्ताओं के साथ बड़ा भक्तमाल के बगिया में 25 नवंबर को होने वाले संत सभा के लिए भूमि पूजन किया।