स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

बड़ी खबर : आज अपने पहले सफ़र पर दिल्ली से रवाना होगी श्री रामायण एक्सप्रेस

Anoop Kumar

Publish: Nov 14, 2018 13:30 PM | Updated: Nov 14, 2018 13:30 PM

Faizabad

इस स्पेशल ट्रेन से रामायण के प्रसंग में शामिल सभी तीर्थ स्थलों की यात्रा करेंगे यात्री

बड़ी खबर : आज अपने पहले सफ़र पर दिल्ली से रवाना होगी श्री रामायण एक्सप्रेस

अयोध्या : पूर्व घोषित श्री रामायण एक्सप्रेस अपने पहले सफ़र पर आज दिल्ली के सफदरजंग रेलवे स्टेशन से रवाना होगी | गुरुवार की सुबह 4:00 बजे यह विशेष ट्रेन अपने पहले पड़ाव पर अयोध्या में पहुंचेगी ,जहां इस ट्रेन का अयोध्या के साधू संत और राजनेता स्वागत करेंगे | यह त्त्रें भगवान श्री राम के जीवन काल से जुड़े इन तीर्थ स्थानों से होकर गुजरेगी जिनका जिक्र श्री राम चरित मानस में है | इतनी ही नहीं इस ट्रेन यात्रा की एक कड़ी हवाई यात्रा के रूप में श्री लंका की भी है लेकिन उसके लिए यात्रियों को अलग से भुगतान करना होगा | इस विशेष ट्रेन में 800 यात्रियों के सफर करने की सुविधा उपलब्ध है और आज ये ट्रेन दिल्ली से रवाना होने वाली है |

इस स्पेशल ट्रेन से रामायण के प्रसंग में शामिल सभी तीर्थ स्थलों की यात्रा करेंगे यात्री

भारतीय रेलवे (Indian Railway) की इस विशेष ट्रेन 16 दिन के यात्रा पैकेज के दौरान स्पेशल ट्रेन से रामायण के सभी तीर्थ स्थलों पर जाया जा सकेगा. इस ट्रेन से सफर करने वाले यात्री देश के साथ ही श्री लंका का भी भ्रमण कर सकेंगे. रेलवे की तरफ से घोषणा की गई थी कि जो यात्री श्रीलंका जाने के इच्छुक हैं उन्हें चेन्नई से कोलंबो का हवाई टिकट बुक कराना होगा। पूरे टूर को आईआरसीटीसी इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कार्पोरेशन (IRCTC) की तरफ से मैनेज किया जा रहा है | आपको बता दें श्री रामायण एक्सप्रेस की घोषणा जुलाई में रेल मंत्री पीयूष गोयल की तरफ से की गई थी. नई दिल्ली के सफदरगंज रेलवे स्टेशन से शुरू होने वाली रामायण एक्सप्रेस अयोध्या, नंदीग्राम, जनकपुर, वाराणसी, प्रयाग, श्रृंगवेरपुर, चित्रकूट, नासिक, हंपी और रामेश्वरम से होकर गुजरेगी. इस ट्रेन को ट्रेन को 14 नंवबर यानी आज बुधवार को रेल मंत्री पीयूष गोयल हरी झंडी दिखाकर रवाना करेंगे.

रेल मंत्री पियूष गोयल दिल्ली के सफदरजंग स्टेशन से दोपहर दो बजे ट्रेन को दिखाएँगे हरी झंडी

ट्रेन में एक बार में 800 यात्रियों के सफर करने की सुविधा है. ट्रेन का पहला पड़ाव अयोध्या, हनुमान गढ़ी, रामकोट और कनक भवन मंदिर होगा. यहां दर्शन करने के बाद पर्यटक ट्रेन नंदीग्राम, सीतामढ़ी, जनकपुर, वाराणसी, प्रयाग, श्रृंगवेरपुर, चित्रकूट, नासिक, हंपी और रामेश्वरम जाएगी। इसके बाद जो यात्री श्रीलंका में भगवान राम से जुड़े स्थलों का दर्शन करना चाहते हैं उन्हें हवाई जहाज से वहां ले जाया जाएगा. भारत में यात्रा करने वाले यात्रियों से टूर पैकेज के लिए 15,120 रुपये लिए गए हैं. वहीं श्रीलंका जाने के इच्छुक यात्रियों चेन्नई से हवाई मार्ग के जरिये कोलंबो ले जाया जाएगा'पांच दिन और छह रात वाले श्रीलंका के टूर पैकेज के लिए प्रत्येक यात्री ने 36,970 रुपये का अतिरिक्त भुगतान किया है. श्रीलंका में कैंडी, नुवारा एलिया, कोलंबो, नेगोंबो में रामायण काल से जुड़े स्थलों के दर्शन कराए जाएंगे। जाहिर तौर पर ये ट्रेन न सिर्फ यात्रियों को एक आध्यात्मिक यात्रा पर ले जायेगी बल्कि भगवान श्री राम की कथा को और करीब से जानने का मौका भी देगी |