स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

बाबरी के मुद्दई इकबाल अंसारी ने कहा विहिप संघ के कार्यक्रमों से है खतरा छोड़ दूंगा अयोध्या

Anoop Kumar

Publish: Nov 14, 2018 14:39 PM | Updated: Nov 14, 2018 14:39 PM

Faizabad

इकबाल अंसारी ने कहा आरएसएस शिवसेना और विहिप के लोग अयोध्या में करा सकते हैं बवाल अयोध्या का मुसलमान महसूस कर रहा है खतरा


अयोध्या : आगामी 24 और 25 नवंबर को धार्मिक नगरी अयोध्या में शिवसेना और विश्व हिंदू परिषद आरएसएस द्वारा प्रायोजित कार्यक्रमों को लेकर बाबरी मस्जिद मामले के मुद्दई इकबाल अंसारी खौफज़दा है | इकबाल अंसारी ने प्रदेश सरकार को आगाह किया है कि अगर उनकी सुरक्षा के मुकम्मल इंतजाम नहीं किए गए तो वह अपने परिवार के साथ अयोध्या को छोड़ देंगे | इकबाल अंसारी ने दावा किया है कि आगामी दिनों में अयोध्या में जो कार्यक्रम होने जा रहे हैं उसमें हिंदू संगठन बवाल कर सकते हैं और लंबे समय से बाबरी मस्जिद मुकदमे की पैरवी करने वाला परिवार इन संगठनों के उग्र कार्यकर्ताओं का शिकार हो सकता है | ऐसे में उनके सामने अयोध्या से पलायन कर देने के सिवा कोई रास्ता नहीं बचता | बताते चलें कि बाबरी मस्जिद के मुद्दई रहे मरहूम हाशिम अंसारी के बेटे इकबाल अंसारी पहले भी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से अपनी सुरक्षा बढ़ाने की गुहार लगा चुके हैं | लेकिन अभी तक उनकी निजी सुरक्षा में इजाफा नहीं किया गया है जिसको लेकर इकबाल अंसारी तनावग्रस्त है |

इकबाल अंसारी ने योगी सरकार से की है मांग बढ़ाई जाए उनके परिवार की सुरक्षा

मीडिया से मुखातिब इकबाल अंसारी ने कहा कि हम कभी नहीं चाहते कि अयोध्या में कोई बवाल हो | हम खुद बाबरी मस्जिद राम मंदिर मुकदमे के शांतिपूर्ण हल के लिए लगातार प्रयास कर रहे हैं | मेरा मानना है कि इस मामले को कोर्ट के फैसले पर ही छोड़ देना चाहिए । जिस तरह से आर एस एस और विश्व हिंदू परिषद सहित शिवसेना और उनके सहयोगी हिंदू संगठन अयोध्या में मंदिर बनाने को लेकर कई बड़े कार्यक्रम करने जा रहे हैं | उससे अयोध्या का माहौल खराब हो सकता है और अयोध्या के आम मुसलमानों को इस तरह के उग्र कार्यक्रमों से खतरा है | मेरी प्रदेश सरकार से मांग है अयोध्या में सुरक्षा के मुकम्मल इंतजाम किए जाएं | जिससे अयोध्या का आम मुसलमान अपने को सुरक्षित महसूस कर सकें |

इकबाल अंसारी ने कहा आरएसएस शिवसेना और विहिप के लोग अयोध्या में करा सकते हैं बवाल अयोध्या का मुसलमान महसूस कर रहा है खतरा

इकबाल अंसारी ने कहा कि मैं खुद बाबरी मस्जिद मामले का पक्षकार हूं इसलिए मुझे और मेरे परिवार को इन कार्यक्रमों से खतरा है | प्रदेश सरकार ने मेरी सुरक्षा बढ़ाई नहीं तो 25 नवंबर से पहले मैं अयोध्या को छोड़ दूंगा | बताते चलें कि आगामी 24 नवंबर को शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने अपने समर्थकों के साथ अयोध्या कूच का ऐलान किया है और आशीर्वाद समारोह के नाम पर अयोध्या में अपने कार्यकर्ताओं का जमावड़ा कर रहे हैं | वही राम मंदिर निर्माण को लेकर आंदोलन की राह पर चल पड़े विश्व हिंदू परिषद और आर एस एस ने भी 25 नवंबर को विराट हिंदू सम्मेलन का आयोजन किया है जिसमें लाखों कार्यकर्ता इकट्ठा होंगे ऐसे में अयोध्या में सरगर्मी होना लाजमी है |