स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

उत्तरी जर्मनी में दो यूरोफाइटर्स टकराए, एक पायलट की मौत

Anil Kumar

Publish: Jun 24, 2019 21:37 PM | Updated: Jun 24, 2019 23:13 PM

Europe

  • Germany के उत्तरी भाग के मैक्लेनबर्ग-वेस्टर्न पोमेरानिया में दो यूरोफाइटर्स के आपस में टकराने से एक बड़ा हादसा हो गया

बर्लिन। जर्मनी में सोमवार को एक बड़ा हादसा हो गया। दरअसल, पूर्वोत्तर जर्मन राज्य मैक्लेनबर्ग-वेस्टर्न पोमेरानिया में दो जर्मन सैन्य जेट ( German military jets ) दुर्घटनाग्रस्त हो गए। दोनों जेट वायु सेना के लिए एक प्रमुख प्रशिक्षण केंद्र के बाहर एक मिशन के लिए उड़ान भर रहे थे।

जर्मनी की वायु सेना ने इस घटना की पुष्टि करते हुए बताया कि दो यूरोफाइटर सैन्य जेट सोमवार को दुर्घटनाग्रस्त हो गए हैं। इस घटना के दौरान दोनों पायलट जेट से बाहर निकल गए। इसमें से एक पायलट जिंदा पाया गया है जो कि एक पेड़ की टहनी से लटकता हुआ मिला।

बर्लिन: नशे में चूर होकर एयरपोर्ट का गेट लांघा शख्स, रनवे पर कार लेकर पहुंचा, मचा हड़कंप

इस घटना को एक घंटे से अधिक समय हो जाने के बाद भी दूसरे पायलट का पता नहीं चल सका है। सेना की टीम दूसरे पायलट के लिए तलाशी अभियान चला रही है। फिलहाल दोनों यूरोफाइटर्स के टकराने की वजह सामने नहीं आई है।

एक पायलट की मौत

जर्मनी की सार्वजनिक प्रसारक एनडीआर ने सूचना दी है कि दूसरे पायलट की मौत हो गई। बता दें कि पुलिस ने इस क्षेत्र में मानव अवशेष मिलने की सूचना दी। जिसके बाद एनडीआर ने यह रिपोर्ट दी है।

लूफ्टवाफे ने कहा कि पायलट यूरोकॉइटर्स की तिकड़ी का हिस्सा थे, जो रोस्टॉक के पास लाएज से बाहर एक मिशन के लिए उड़ान भर रहे थे।

बर्लिन में मिले द्वितीय विश्व युद्ध के बम को किया गया निष्क्रिय

उन्होंने आगे बताया कि वे सामरिक वायु सेना विंग 73 का हिस्सा थे, जिसे 'स्टाइनहॉफ' के रूप में जाना जाता था। यह एक लड़ाकू विंग है जो सामान्य वायु रक्षा में माहिर है और जर्मनी में यूरोफाइटर टाइफून के पायलटों के लिए मुख्य प्रशिक्षण केंद्र है।

उत्तरी जर्मनी में दो यूरोफाइटर्स टकराए

दोपहर 2 बजे के करीब हुआ हादसा

शुरुआती जानकारी के मुताबिक, बर्लिन से उत्तर में लगभग 120 किलोमीटर (75 मील) की दूरी पर मुएरित्ज झील के पास दोपहर के 2 बजे के करीब टकरा गया।

प्रत्यक्षदर्शियों ने दो जगहों के वीडियो साझा किए हैं जहां से हादसे के बाद धुएं का गुब्बार उठ रहा था। पुलिस ने चेतावनी जारी करते हुए लोगों को जेट के मलबे से दूर रहने को कहा है और उसे छूने से मना किया है।

अभी तक की जानकारी के मुताबिक, जेट में गोला बारूद ले जाया जा रहा था, हालांकि बाद में लुफ्ताफ ने इनकार कर दिया कि वे भरी हुई हैं। बताया जा रहा है कि जब दोनों विमान क्रैश हुआ तो उसमें भयानक आग लग गई थी, हालांकि बाद में उसे अगले एक घंटे में बुझा दिया गया।

Read the Latest World News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले World News in Hindi पत्रिका डॉट कॉम पर. विश्व से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर.