स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

प्रसव के दौरान गर्भवती की मौत, परिजनों के किया हंगामा

Ruchi Sharma

Publish: Nov 08, 2019 17:09 PM | Updated: Nov 08, 2019 17:09 PM

Etawah

प्रसव के दौरान गर्भवती की मौत, परिजनों के किया हंगामा

इटावा. जिले में इकदिल थाना क्षेत्र के एक निजी अस्पताल में प्रसव के दौरान गर्भवती महिला की मौत हो गई । महिला की मौत से गुस्साए परिजनों ने जमकर हंगामा काटते हुए डाक्टरों पर लापरवाही का आरोप लगाया। गर्भवती महिला की मौत के बाद हंगामे की खबर मिलने के बाद सीएमओ के निर्देश पर डिप्टी सीएमओ डा.वीरेंद्र सिंह मौके पर जांच करने के लिए पहुंचे।

इटावा के डिप्टी सीएमओ डा.वीरेंद्र सिंह ने आज यहाॅ बताया कि इकदिल थाना क्षेत्र के नई एकता कालोनी स्थित निजी अस्पताल चांदनी केयर अस्पताल में प्रसव के दौरान गर्भवती की मौत के बाद हंगामे की खबर मिलने के बाद सीएमओ के निर्देश पर मौके पर जांच करने के लिए स्वास्थ्य विभाग की टीम के साथ पहुंचे । जहाॅ पर अस्पताल बंद मिलने पर कोई भी जांच प्रकिया नही हो सकी लेकिन केयर अस्पताल संचालको को नोटिस भेज स्पष्टीकरण मांगा जा रहा है ।
उन्होने बताया कि जिस केयर अस्पलाल पर गर्भवती महिला की मौत का आरोप लगाया गया है उसका सीएमओ कार्यालय मे रजिस्ट्रेशन है । अब जांच के दायरे मे इस बात को रखा जायेगा कि गर्भवती महिला की मौत मे किसी तरह की लापरवाही तो नही बरती गई है ।
भरथना के ग्राम कुसना निवासी शैलेन्द्र गोयल की पत्नी गर्भवती थी । आज सुबह प्रसव पीडा होने पर शैलेंद्र ने अपनी पत्नी साक्षी को न्यू एकता कालोनी स्थित चांदनी केयर अस्पताल में भर्ती करवा दिया । हास्पिटल के डाक्टरों द्वारा गर्भवती साक्षी का प्रसव शुरू कराया गया लेकिन प्रसव के दौरान साक्षी की मौत हो गई। परिजनों का आरोप है कि अस्पताल के डाक्टरों ने प्रसव क्रिया के दौरन लापरवाही बरती जिसके कारण उनकी पत्नी साक्षी की मौत हो गई। परिजनों का आरोप है कि जैसे ही उनको पता चला कि साक्षी की मौत हो गई है । उन्होंने डाक्टरों से बात करने की कोशिश की लेकिन अस्पताल प्रशासन ने महिला के शव को अस्पताल से बाहर निकाल दिया और अस्पताल में ताला लगाकर फरार हो गए । गुस्साये परिजनों ने अस्पताल के बाहर जम कर हंगामा किया । परिजनों की मांग थी कि न्यू चांदनी केयर अस्पताल के डाक्टरो पर मुकदमा दर्ज करके उनको न्याय दिलाया जाए । मामला भरथना इलाके से जुडा होने के कारण विधायक भरथना सावित्री कठेरिया मौके पर पहुंची और परिजनों को सांत्वना दी । विधायक सावित्री कठेरिया ने अधिकारियों से बात करके मामले में जल्द जल्द कार्यवाही करने के लिये कहा। विधायक सावित्री कठेरिया ने परिजनों को न्याय दिलाने का भरोसा दिया।
बताते चले कि इटावा के विभिन्न नर्सिग होमो मे उपचार के दरम्यान 4 पीडितो की मौत के बाद अस्पतालो के कामकाज पर सवाल उठना शुरू हो गये है ।

[MORE_ADVERTISE1]