स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

लॉयन सफारी में विदेशी पर्यटकों की आवाजाही बढ़ी, जर्मन के बाद आये जापानी पर्यटक

Akansha Singh

Publish: Dec 04, 2019 09:17 AM | Updated: Dec 04, 2019 09:17 AM

Etawah

तीन जापानी पर्यटकों ने भारतीय परिचित के साथ इटावा सफारी पार्क का किया दीदार

इटावा. पर्यटकों के लिए खुलने के साथ ही इटावा सफारी पार्क की लोकप्रियता लगातार बढ़ती ही जा रही है। जहां देश भर के पर्यटकों के बीच इटावा सफारी पार्क की धूम मची हुई है वहीं विदेशी पर्यटकों को इटावा सफारी पार्क खासा रास आ रहा है।


इटावा सफारी पार्क के रेंजर विनीत सक्सैना ने बताया कि इटावा सफारी पार्क की भव्यता का हर कोई मुरीद नजर आ रहा है। 24 नंबवर को शुभारंभ के बाद लगातार देशी विदेशी पर्यटकों के आने का सिलसिला लगातार चल रहा है। 26 नंबवर को जर्मन युगल आ चुके हैं। इसके बाद जापानी पर्यटकों की आमद सफारी की लोकप्रियता बढ़ाती हुई दिख रही है। लखनऊ से जापानी पर्यटक अकागी शान, अमानु शान और डा. सुशील यामो मौटो, अपने करीब कई भारतीय करीबियों के साथ इटावा सफारी पार्क देखने के लिए आये। सभी जापानी पर्यटको रेंजर विनीत सक्सैना ने भ्रमण कराया। इन जापानी पर्यटकों को लेकर मंगलूर के किरन हेगडे आये हुए थे।


अकागी शान ने बताया कि सफारी पार्क को देख कर बेहद गदगद हैं। अमानु शान ने बताया कि वो सफारी पार्क की भव्यता से काफी खुश हैं। इसके निर्माण के लिए अखिलेश यादव वाकई में बधाई के पात्र हैं। भारतीय मूल के जापानी नागरिक एम.एल.शर्मा का कहना रहा कि सफारी में नेचुरल एयर है जो शहर के अंदर नहीं है। पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने इस सफारी को कुछ सोच कर ही बनाया होगा। ऐसा लगाता है कि इटावा सफारी में आने के बाद अफ्रीका की सफारी के अंदर आ गया। ग्रीनरी यहां बहुत ही अधिक है। बिल्कुल भी प्रदूषण नहीं है। यूपी के लोगों से अनुरोध है कि स्वच्छ हवा लेने के लिए अधिक से अधिक यहां पर आयें।


मंगलूर के किरन हेगडे बताते हैं कि दुनिया में एशियाटिक लायन की आबादी लगातार सिमट रही है। गुजरात के बाद इटावा सफारी पार्क लायन की आबादी को बढ़ाने में मदद करेगा ऐसी उम्मीद है। बहुत इनके साथ ही लखनऊ से रमेश कुमार पाल , अरूण कुमार शाह, दीपू जायसवाल,पूरब राजपाल आदि लोग मौजूद रहे।


बताते चले है कि 26 नंबवर को जर्मन जोडी पहली पर्यटक जर्मन दंपति डेबिस और कालरा इटावा सफारी पार्क आये थे। भारत भ्रमण पर आये जर्मन जोड़े को जब इस बात की जानकारी मिली कि इटावा सफारी पार्क पर्यटकों के लिए खुल गया है तो वो बनारस भ्रमण से आगरा जाते समय सुबह सफारी को देखने के पहुंचे। जर्मन जोड़े ने इटावा सफारी पार्क कि भव्यता कि जमकर तारीफ की। दंपित कहा कि वो आगे भी इस सफारी को देखने के लिए आयेंगे।

[MORE_ADVERTISE1]