स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

इटावा की महिला ग्राम प्रधान को मोदी सरकार ने किया सम्मानित, उनके बेहतर काम को सराहा

Karishma Lalwani

Publish: Oct 25, 2019 11:24 AM | Updated: Oct 25, 2019 11:31 AM

Etawah

प्रधान सावित्री भदौरिया (65) को केंद्र सरकार ने पंडित दीनदयाल उपाध्यय पंचायत सश्क्तिकरण पुरस्कार 2019 योजना से सम्मानित किया

इटावा. यूपी के इटावा जिले की ग्राम पंचायत की प्रधान सावित्री भदौरिया (65) को केंद्र सरकार ने पंडित दीनदयाल उपाध्यय पंचायत सश्क्तिकरण पुरस्कार 2019 योजना से सम्मानित किया गया है। केंद्र सरकार द्वारा संचालित पंचायत सशक्तीकरण की विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं को ग्राम पंचायत गाती में प्रधान सावित्री देवी ने धरातल पर पूरा किया। उनका काम से खुश होकर केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने उन्हेंदीनदयाल उपाध्याय पंचायत सशक्तीकरण पुरस्कार से सम्मानित किया। सावत्री देवी ने कहा कि पंचायतीराज मंत्री द्वारा दिया गया सम्मान उनके लिए गौरव की बात है।

पंडित दीनदयाल उपाध्यय पंचायत सश्क्तिकरण योजना के लिए इटावा की तीन ग्राम पंचायतों देसरमऊ, गाती, धमना ब्लाक बढ़पुरा ने आवेदन किया था। इनमें ग्राम गाती का कार्य सबसे अच्छा रहा जिसके लिए यहां की ग्राम पंचायत की प्रधान को सम्मानित किया गया। सावित्री देवी ने ग्राम पंचायत में विकास कार्यों को वरीयता प्रदान करते हुए मानकों के अनुसार कार्य कराया था। उसी के तहत उन्हें यह पुरस्कार दिया गया। इस ग्राम पंचायत में दो अतिरिक्त राजस्व ग्राम रमपुरा व कसौंगा शामिल हैं। गांव की नालियों, खड़ंजा, शौचालय, पेयजल व्यवस्था, आवास निर्माण विद्युतीकरण के साथ विद्यालय में कराए गए कार्य श्रेष्ठ पाए गए।

इटावा जिले की यह इकलौती ग्राम पंचायत है जिसका चयन इस योजना के लिए किया गया है। गाती ग्राम पंचायत को केंद्र सरकार की किसी भी महत्वपूर्ण योजना के लिए चयनित किया जाना इटावा के लिए बेहद प्रसन्नता की बात रही। नमसा योजना के अंतर्गत अनाज भंडारण और बीज खाद के लिए किसानों को अनुदान उपलब्ध कराया गया था। वित्तीय वर्ष 18-19 में पूरी ग्राम पंचायत में 90 लाख की परियोजना का क्रियान्वयन किया गया। जिससे किसान की फसल की भंडारण में एवं आय में वृद्धि हुई। डॉ.राम मनोहर लोहिया ट्यूबेल योजना के अंतर्गत अनुसूचित जाति की किसान की श्रेणी में ग्राम पंचायत में ट्यूबेल का निर्माण कराया गया और उसमें भूमिगत पाइप के द्वारा लगभग 400 बीघा खेती को सिंचित किया गया। योजना का बजट 24012 रहा। मनरेगा योजना के अंतर्गत ग्राम पंचायत गाती में पशु शेड निर्माण कार्य कराए गए हैं। कुल 11 पशु शेड का निर्माण अभी तक कराया जा चुका है और इससे लोगों को रोजगार भी मिला है।

ग्राम पंचायत में वित्तीय वर्ष 18-19 में 10 प्रधानमंत्री आवास योजना के लाभार्थियों को प्रधानमंत्री आवास आवंटित किए गए। पंडित दीनदयाल उपाध्याय पंचायत सशक्तिकरण पुरस्कार 2019 के अंतर्गत चयनित ग्राम पंचायत घाटी में ओडीएफ के अंतर्गत 220 शौचालयों का निर्माण कराया गया। वर्तमान में ग्राम पंचायत में खुले में शौच मुक्त है। ग्राम प्रधान प्रतिनिधि रामवीर सिंह का कहना है कि ग्राम प्रधान के सम्मानित किए जाने से वह खुश हैं। उनके गांव मे सरकार की हर तरह की योजना का लाभ लोगों को दिए जाने की पहल की कई है। यह सब कुछ प्रधान की मेहनत और लगन के बल पर संभव हुआ है।

गांव के मनोहर सिंह भदौरिया ने कहा कि चंबल नदी के किनारे बसे होने के कारण एक समय कुख्यात डाकुओं की आवाजाही यहां पर बनी रहती थी। इन्ही में से एक मलखान सिंह भी हुआ करते थे जिन्होने गांव मे दुर्गा माता का मंदिर निर्माण भी कराया था।

मुलायम के करीबी

सावित्री देवी वर्ष 2010 से लगातार ग्राम प्रधान हैं। इनके पति शोभा सिंह भदौरिया सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव के करीबी रहे हैं। वे जिला पंचायत सदस्य के अलावा बढ़पुरा के ब्लाक प्रमुख भी रहे हैं। वर्ष 2000 में सावित्री देवी के पुत्र रामवीर सिंह भदौरिया प्रधान रहे थे। 2005 में अनुसूचित सीट होने के कारण यहां पर सर्वेश जाटव प्रधान चुने गए थे। उसके बाद वर्ष 2010 व 2015 में सावित्री देवी प्रधान चुनी गईं।

[MORE_ADVERTISE1]