स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

इटावा में दसवीं के छात्र ने फांसी लगाकर की खुदकुशी

Abhishek Gupta

Publish: Aug 13, 2019 22:26 PM | Updated: Aug 13, 2019 22:27 PM

Etawah

टावा जिले के जसवंतनगर कस्बा के मोहल्ल सिद्धार्थपुरी में रहने वाले एक दसवीं कक्षा के छात्र ने अपने ही घर में फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली।

इटावा. उत्तर प्रदेश के इटावा जिले के जसवंतनगर कस्बा के मोहल्ल सिद्धार्थपुरी में रहने वाले एक दसवीं कक्षा के छात्र ने अपने ही घर में फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। पुलिस सूत्रों के अनुसार एक साल पहले उसकी मां की मौत हो गई थी, जिससे वह परेशान रहता था और इसी कारण उसने फांसी लगा ली।

परिजनों को जब इसकी जानकारी हुई तो परिवार में कोहराम मच गया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया। थाना क्षेत्र के सिद्धार्थपुरी मोहल्ला के रहने वाले गल्ला आढ़ती विशुन दयाल के पुत्र अमित (16) ने अपने कमरे में पहुंचकर फांसी लगाकर जान दे दी। जब उसकी बहन सोनी उसे चाय पीने के लिए बुलाने उसके कमरे में पहुंची तो उसे फांसी के फंदे पर लटकता देख रोने-बिलखने लगी । मेघा के रोने की आवाज सुनकर बड़ी बहन मेघा व अन्य परिवारीजन भी मौके पर पहुंच गए । अमित को फंदे पर लटकता देख घटना की सूचना मंडी गए पिता विशुन दयाल समेत पुलिस को दी गई। जानकारी होने पर एसआई सुरेश चन्द्र घटना स्थल पर पहुंचे और कमरे में लटक रहे अमित के शव को नीचे उतारकर उसे पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया।

छात्र के पिता विशुन दयाल ने बताया कि चार बच्चे थे जिसमें सुमित उससे बाद उनकी बेटी मेघा तथा तीसरे नम्बर का अमित था । सबसे छोटी उनकी बेटी सोनी है। पत्नी की एक वर्ष पूर्व मौत हो जाने के बाद से बेटा अमित गुमशुम रहता था। उसने वर्ष 2019 में ही हाईस्कूल की परीक्षा उर्त्तीण की थी लेकिन अचानक उसके इस निर्णय से परिवार को हिला कर रख दिया है। छात्र की मौत से परिवारीजनों का रो-रोकर बुरा हाल है।