स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

अयोध्या पर फैसले के बाद यहां सबसे बड़ी मस्जिद से सफेद झंडा फहरा कर दिया गया अमन का संदेश

Abhishek Gupta

Publish: Nov 09, 2019 17:18 PM | Updated: Nov 09, 2019 17:18 PM

Etawah

सैकड़ों वर्षों से लंबित अयोध्या के राम मंदिर ओर बाबरी मस्जिद विवादित स्थल का आज सुप्रीम कोर्ट से ऐतिहासिक फैसला आ गया है जिसको हर किसी ने सहर्ष स्वीकार कर लिया है।

इटावा. सैकड़ों वर्षों से लंबित अयोध्या के राम मंदिर ओर बाबरी मस्जिद विवादित स्थल का आज सुप्रीम कोर्ट से ऐतिहासिक फैसला आ गया है जिसको हर किसी ने सहर्ष स्वीकार कर लिया है। अयोध्या मामले को लेकर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद इटावा की एक मस्जिद से अमन और चैन का पैगाम दिया गया। शहर की सबसे बड़ी और ऊंची मीनार पर सफेद झंडे लगाये गए। दरगाह के सज्जादानशीन डा. शुऐब अहमद नईमी ने कहा कि इस्लाम देता है अमन और शांति का पैगाम। जो भी फैसला आया है वह हम सब को स्वीकार है।

ये भी पढ़ें- सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद अयोध्या में इस जगह बन सकती है मस्जिद, अयोध्या से है पांच किलोमीटर दूर

पुलिस प्रशासन सतर्क-
इस ऐतिहासिक फैसले के आने से पहले राजनैतिक तौर पर बेहद अहम जिला माने जाने वाले उत्तर प्रदेश के इटावा जिले में पुलिस प्रशासन ने आज तड़के से ही कड़ी मुस्तैदी हर ओर करके रखी है ।
मुस्तैदी के क्रम में खुद इटावा के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार मिश्रा इटावा के जिलाधिकारी जितेंद्र बहादुर सिंह पुलिस उपाधीक्षक चंद्रपाल सिंह विभिन्न बोलियों में शहर के विभिन्न हिस्सों में पुलिस बल के अतिरिक्त पीएसी ओर स्वाट टीम की मदद से गश्त करते हुए नजर आये ।

ये भी पढ़ें- फैसले से पहले की रात में ऐसी दिखी अयोध्या, सड़क पर चहलकदमी करते रहे लोग

[MORE_ADVERTISE1]Etawah news[MORE_ADVERTISE2]

सुबह से ही पुलिस दिखी मुस्तैद-

पुलिस अफसरों ने विशेष निगरानी मुस्लिम बाहुल्य समझे जाने वाले इलाकों में रखी । पुलिस और अन्य सुरक्षा बल के जवान इन इलाकों में लगातार अलर्ट मोड में रहते हुए अमलीजामा पहनाते रहे। सुबह 6 बजे सबसे पहले इटावा के पुलिस अधीक्षक चंद्रपाल को भारी तादात में पुलिस बल के साथ गश्त करते हुए देखा गया । उन्होंने शहर के मुख्य पक्का तालाब चैराहे पर सरदार बल्लभ भाई पटेल की मूर्ति के पास मौजूद लोगों को सचेत करते हुए अदालती फैसले के बाबत अवगत कराया और बताया कि अगर कोई भी व्यक्ति इस फैसले के बाबत आक्रोशित या उग्र होता हुआ दिखाई दे तो तात्कालिक तौर पर पुलिस को सूचना देकर अवगत कराया जाए।

पूर्वाहन 11 बजे के आसपास इटावा के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार मिश्रा अपने आवाज से निकलकर के शहर का भ्रमण करते हुए कोतवाली पहुंचे तो वहां उन्हें बड़ी तादात में ट्रेनी पुलिस कांस्टेबल और कई सब इंस्पेक्टर मौजूद मिले उन्होंने सभी की जमकर के नेता लगाते हुए कहा कि कोतवाली में बैठने से काम नहीं चलेगा । सभी सड़कों पर भ्रमण करते हुए नजर आए । ताकि माहौल किसी भी तरीके से बिगड़ने ना पाए ।

[MORE_ADVERTISE3]