स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

सैफई में पहली बार गरजा महावली, 200 से अधिक अवैध अतिक्रमण किया गया ध्वस्त, मचा हड़कम्प

Neeraj Patel

Publish: Nov 08, 2019 21:38 PM | Updated: Nov 08, 2019 21:38 PM

Etawah

पहली बार हुई अतिक्रमण कारियों के खिलाफ कार्रवाई से सैफई में हडकंप मच गया है।

इटावा. समाजवादी पार्टी के प्रमुख और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के गांव में स्थापित सैफई यूनीवसिर्टी के आस-पास जोरदारी से चलाए गए अतिक्रमण हटाओ अभियान मे आज दो सैकडा से अधिक अवैध कब्जाधारियों को बेदखल कर दिया गया। पहली बार हुई अतिक्रमण कारियों के खिलाफ कार्रवाई से सैफई में हडकंप मच गया है।

पुलिस फोर्स के साथ अभियान

उत्तर प्रदेश आयुर्विज्ञान विश्वविद्यालय सैफई के इमरजेंसी ट्रामा सेंटर में सीरियस मरीजों को ले लाते समय अतिक्रमणकारियों के कारण जाम की समस्या बनी रहती थी। जिससे मरीजों को बड़ी परेशानी से गुजरना पड़ता था कुलपति प्रोफेसर डा. राजकुमार ने कई बार जिला प्रशासनिक अधिकारियों को पत्राचार किया। अभी हाल में ही कुलपति ने शासन को अतिक्रमणकारियों के बारे में अवगत कराया। जिसके बाद उपजिलाधिकारी हेम सिंह व क्षेत्राधिकारी मस्सा सिंह ने पुलिस फोर्स के साथ अभियान चलाया।

चर्चा का विषय बनी कार्रवाई

पहली बार सैफई में इतनी बड़ी कार्यवाही अतिक्रमणकारियों के खिलाफ की गई है जो कि चर्चा का विषय बना हुआ है । 2 दिन पहले ही समस्त ठेली, गुमटी लगाने वाले दुकानदारों को प्रशासन ने अतिक्रमण हटाने के लिए अवगत करा दिया था। तो समस्त दुकानदार एक साथ इकट्ठे होकर सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से मिलने के लिए लखनऊ पहुंचे। हालांकि मुलाकात नहीं हो सकी उससे पहले प्रशासन का चाबुक अतिक्रमण कारियों के खिलाफ चलाया जा चुका है। छावनी में तब्दील रहा पूरे दिन सैफई बड़ी मात्रा में फोर्स की मौजूदगी में अतिक्रमण हटाया गया 5 घंटे तक चला अभियान चारों तरफ रही बड़ी भीड़ तो प्रशासन भी रहा सतर्क।

बताते चलें एक लंबे अर्से से हास्पिटल चैराहा के मुख्य मार्ग के दोनों तरफ से मेडीकल यूनिवर्सिटी तक तथा अस्पताल से करहल रोड की ओर दुकानदारों द्वारा किये गये। अवैध अतिक्रमण के खिलाफ आज प्रशासन ने डंडा चलाया और महाबली के जरिये अतिक्रमण साफ कराया गया, इसके चलते करीब आधे दिन तक दुकानदारों से लेकर अवैध अतिक्रमण कारियों में भगदड की स्थिति बनी रही। इस बीच उपजिलाधिकारी सैफई हेंम सिंह और सीओ मस्सासिंह ने लाउडस्पीकर पर दुकानदारों को चेताया कि अब अतिक्रमण किए जाने पर उनके खिलाफ जुर्माना और वसूली की कार्रवाई की जाएगी।

जेसीबी मंगवाकर मास्टर प्लान चलवाया

मालूम हो कि यहां मैन चैराहे से लेकर जसवंतनगर रोड मेडिकल यूनिवर्सिटी रोड सहित पूरे कस्वे में ही दुकानदारों ने अपनी दुकानें सडक पर लगा रखी हैं और इस कारण इटावा मैनपुरी मार्ग पर फर्राटा भरकर दौडते वाहनों की चपेट में आकर आये दिन लोग चोटिल होकर अस्पताल पहुंचते थे। इन सभी समस्याओं को देखते हुए उपजिलाधिकारी हेम सिंह और सीओ मस्सासिंह ने पुलिस के जवानों के साथ सडकों पर जेसीबी मंगवाकर मास्टर प्लान चलवाया गया।

दुकानदारों में हडकंप

अतिक्रमण हटवाने से पहले 2 दिन पहले सभी अतिक्रमणकारियों के साथ बैठक की गई थी और हिदायत दी गई थी 2 दिन में जगह खाली कर दें नहीं तो कार्रवाई की जाएगी लेकिन किसी भी ने नहीं खाली की। तो आज सुबह नौ बजे से प्रशासन के मास्टर प्लान के लिये पूरे रौ में आने के बाद दुकानदारों में हडकंप मच गया इस बीच प्रशासन ने मास्टर प्लान की जद में आये अतिक्रमण ध्वस्त करा दिये गये। इस दौरान राजस्व टीम के साथ सभी चैकी इंचार्जों व सैफई थाना प्रभारी चंद्रदेव सिंह,वैदपुरा थाने का फोर्स भी रहा मौजूद रहे।

[MORE_ADVERTISE1]