स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

पराली जलाने वाले 64 किसानों से वूसला 1.65 हजार अर्थदण्ड, 8 लेखपालों को कारण बताओ नोटिस जारी

Neeraj Patel

Publish: Nov 07, 2019 20:02 PM | Updated: Nov 07, 2019 20:02 PM

Etawah

जिले में पराली जलाए जाने के मामले मे जिला प्रशासन ने सख्ती दिखाते हुए बडी कार्रवाई अमल मे लाइ गई है।

इटावा. जिले में पराली जलाए जाने के मामले मे जिला प्रशासन ने सख्ती दिखाते हुए बडी कार्रवाई अमल मे लाइ गई है। इटावा में पराली जलाने वाले 64 किसानों से 1 लाख 65 हजार अर्थदण्ड बसूले जाने के साथ ही लापरवाह बरतने वाले 13 लेखपालों को प्रतिकूल प्रविष्टि दी गई है तथा 8 लेखपालों को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है।

पराली की समस्या की रोकथाम हेतु जिलाधिकारी जे. बी. सिंह की अध्यक्षता में कैम्प कार्यालय स्थित सभागार में बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी, नोडल अधिकारी जी. पी. श्रीवास्तव अपर जिलाधिकारी, जनपद के समस्त उप जिलाधिकारियों, उप कृषि निदेषक, कृषि विभाग के अधिकारियों सहित सम्बन्धित अधिकारीगण आदि उपस्थित रहे।

बैठक में उपस्थित उप जिलाधिकारियों द्वारा बताये गए आंकड़े के अनुसार तहसील भरथना में 21 कृषकों पर रूपये 55000, इटावा में 18 कृषकों पर रूपये 47500, तहसील ताखा में 13 कृषकों पर रूपये 32500, तहसील सैफई में 8 कृषकों पर रूपये 20000, तहसील जसवंतनगर में कृषकों से रू0 7500 तथा तहसील चकरनगर में 1 कृषक पर रूपये 2500 का जुर्माना किया गया। इस प्रकार कुल 64 कृषकों पर रूपये 1 लाख 65 हजार का जुर्माना कर अर्थदण्ड वसूल कर जमा कोश में जमा कराया गया है।

जिलाधिकारी जे. बी. सिंह ने उपस्थित उप जिलाधिकारियों को अवगत कराया कि राजस्व परिषद के निर्देशों के अनुसार लेखपालों द्वारा पड़ताल के समय खसरे टिप्पणी के स्तम्भ में सभी गाटों में फसल अवषेष पराली जलाए जाने अथवा न जलाए जाने का उल्लेख किया जाना अनिवार्य है। अतः वह अपने-अपने लेखपालों के खसरे चैक कर लें कि लेखपाल फसल अवषेष जलाए जाने का अंकन अपने-अपने खसरों में अंकन कर रहे हैं अथवा नहीं यदि लेखपालों द्वारा खसरे के टिप्पणी के कालमों में फसल अवषेष जलाने का अंकन नहीं किया जा रहा है तो उस लेखपाल के विरूद्व दण्डात्मक कार्यवाही करें। इस पर उपस्थित उप जिलाधिकारी ताखा ने बताया कि उनके द्वारा 13 लेखपालों को प्रतिकूल प्रविष्टि तथा उप जिलाधिकारी इटावा ने बताया कि 8 लेखपालों को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है।

[MORE_ADVERTISE1]