स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

Basant Panchami : केसर खीर अर्पण करने के साथ करें ये 10 उपाय, मां सरस्वती होंगी प्रसन्न

Soma Roy

Publish: Jan 30, 2020 12:17 PM | Updated: Jan 30, 2020 12:17 PM

Dus Ka Dum

  • Saraswati Puja : बसंत पंचमी के दिन ब्राम्हण को किताब या ग्रंथ का दान करें
  • इस दिन पीले वस्त्र पहनने एवं पीली चीजें खाने से लाभ होता है

नई दिल्ली। बसंत पंचमी का दिन ज्ञान की देवी सरस्वती (Maa Saraswati) को समर्पित होता है। मान्यता है कि इस दिन देवी मां की आराधना करने से विद्या और बुद्धि की प्राप्ति होती है। इस बार पंचमी तिथि (Panchami Tithi) 29 जनवरी की सुबह न होने के चलते पूजन आज किया जा रहा है। पंडित रवि दुबे के अनुसार पूजन का शुभ मुहूर्त 30 जनवरी को दोपहर 1 बजकर 18 मिनट तक है। इस दौरान अगर देवी को कुछ खास चीजें अर्पण की जाए तो आपकी सारी मनोकामनाएं पूरी हो सकती हैं।

पेड़ पर लटकता दिखा 15 फीट लंबा किंग कोबरा, जानकारों ने कहा 100 साल है इसकी उम्र

[MORE_ADVERTISE1]

1.बसंत पंचमी के दिन पीले वस्त्र बिछाकर मां सरस्वती की फोटो या मूर्ति की स्थापना करें। इसके बाद उन्हें रोली, केसर, हल्दी, चावल और पीले फूल चढ़ाएं।

2.सुख—समृद्धि की कामना करने वालों को आज के दिन मां सरस्वती को पीली मिठाई, मिश्री, दही, हलवा और केसर मिश्रित खीर का भोग लगाना चाहिए। इससे देवी मां प्रसन्न होती हैं।

3.विद्या और बुद्धि की प्राप्ति के लिए वीणा वादिनी की पूजा करते समय ॐ ऐं सरस्वत्यै नमः मंत्र का हल्दी (turmeric mala) की माला से जाप करें, लाभ होगा।

4.अगर आपका मन पढ़ाई में नहीं लगता है तो आज के दिन 22 इमली के पत्ते लें। अब इनमें 11 पत्ते माता सरस्वती के यंत्र या चित्र पर चढ़ाएं। बाकी 11 पत्ते अपने पास सफेद वस्त्र में लपेटकर रख लें। इससे आपका काम बन जाएगा।

5.उच्च शिक्षा प्राप्त करने या विदेश में जाकर पढ़ाई करने की इच्छा रखने वालों को देवी सरस्वती की पूजा करनी चाहिए। उन्हें बसंत पंचमी के दिन किताबे या ग्रंथ दान करना चाहिए।

[MORE_ADVERTISE2]panchami.jpg[MORE_ADVERTISE3]

6.मां सरस्वती की कृपा पाने के लिए किसी ब्राह्मण कन्या को सफेद वस्त्र का दान देना भी अच्छा माना जाता है।

7.अगर आज के दिन किसी कन्या को घर बुलाकर सफेद रंग की मिठाई खिलाएं तो देवी प्रसन्न होती हैं।

8.कामयाबी हासिल करने के लिए आज के दिन 'ॐ ऐं नम:' मंत्र का 108 बार जप करें।

9.अगर मेहनत के बावजूद सफलता नहीं मिल रही है तो ब्राह्मी नामक औषधि का सेवन करें। साथ ही 'ॐ ऐं सरस्वत्यै नम:' मंत्र का जाप करें।

10.देवी मां का आशीर्वाद पाने के लिए अपामार्ग की जड़ (a kind of tree root) बांधे। पुरुष इसे अपनी दाहिनी भुजा और स्त्री अपनी बाईं भुजा पर बांधे। इस दौरान स्फटिक की माला से देवी मां का कोई सिद्ध मंत्र जपें, इससे लाभ होगा।