स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

धंबोला थाने का घेराव, विरोध प्रदर्शन

Harmesh Kumar Tailor

Publish: Aug 06, 2019 11:52 AM | Updated: Aug 06, 2019 11:52 AM

Dungarpur

Dungarpur

धंबोला थाने का घेराव, विरोध प्रदर्शन
तीन माह पूर्व युवक की मौत का मामला
धंबोला. गुंदीघाटा गांव में करीब तीन माह पूर्व सडक़ किनारे मृत मिले युवक के मामले का अब तक खुलासा नहीं होने पर आक्रोशित ग्रामीणों ने सोमवार को धंबोला थाने का घेराव किया। परिजनों ने हत्या के आरोप लगाते हुए मामले का सात दिन में खुलासा नहीं होने पर दोबारा धरना प्रदर्शन की चेतावनी दी। गुंदीघाटा निवासी रतनलाल पुत्र कालू कटारा का शव छह मई को मकान से कुछ ही दूरी पर सडक़ किनारे पड़ा मिला था।

धंबोला थाने का घेराव, विरोध प्रदर्शन
तीन माह पूर्व युवक की मौत का मामला
डूंगरपुर .धंबोला गुंदीघाटा गांव में करीब तीन माह पूर्व सडक़ किनारे मृत मिले युवक के मामले का अब तक खुलासा नहीं होने पर आक्रोशित ग्रामीणों ने सोमवार को धंबोला थाने का घेराव किया। परिजनों ने हत्या के आरोप लगाते हुए मामले का सात दिन में खुलासा नहीं होने पर दोबारा धरना प्रदर्शन की चेतावनी दी। गुंदीघाटा निवासी रतनलाल पुत्र कालू कटारा का शव छह मई को मकान से कुछ ही दूरी पर सडक़ किनारे पड़ा मिला था।
परिजनों ने कतिपय लोगों पर हत्या के आरोप लगाते हुए नामजद रिपोर्ट दी थी। अब तक खुलासा नहीं होने पर सोमवार दोपहर मृतक के परिजनों सहित करीब 100 से अधिक ग्रामीण थाने में बाहर आ जमे। दोषियों को गिरफ्तार करने की मांग करते हुए जमकर आक्रोश जताया। काफी समझाइश के बाद परिजनों ने थानाधिकारी ब्रजेश कुमार को झापन सौंपा हत्या के खुलासे की मांग की। थानाधिकारी बताया कि मामले की जांच पुलिस उप अधीक्षक कर रहे हैं। विसरा रिपोर्ट की जांच होने पर कार्रवाई होने व निर्दोष को नहीं फसाने व दोषियों को नहीं बख्शें जाने का आश्वासन दिया।
डटी रही बेवा
मृतक की बेवा राधा पुलिस के आश्वासन पर भी नहीं मानी तथा अपने बड़े बेटे के साथ थाने के आगे से हटने को तैयार नहीं हुई।
मृतक के भतीजे गौतम पुत्र गागाजी कटारा ने बताया कि चार बार पुलिस अधिकारियों को नामजद रिपोर्ट दी, फिर भी अब तक कार्रवाई नहीं हुई।

फर्जी हस्ताक्षर कर एक करोड़ रुपए का लेन-देन!
सदर थाना पुलिस कर रही है जांच
डूंगरपुर . ग्राम पंचायत रोहनवाड़ा के सरपंच और कनिष्ठ लिपिक के खिलाफ फर्जी हस्ताक्षर कर एक करोड़ रुपए की राशि के दुरुपयोग का मामला सामने आया है। पूर्व ग्राम विकास अधिकारी ने सदर थाना पुलिस को इस आश की रिपोर्ट दी है। शिकायतकर्ता गटुलाल परमार ने पुलिस को परिवाद देकर कार्रवाई की मांग की है। इस संबंध में सरपंच से संपर्क का प्रयास किया, लेकिन नहीं हो पाया।