स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

हाथ-पैर से निकलता है ज्यादा पसीना, ताे न करें नजरअंदाज

Yuvraj Singh Jadon

Publish: Jul 14, 2019 17:45 PM | Updated: Jul 14, 2019 17:45 PM

Disease and Conditions

गर्मियों में शरीर का तापमान संतुलित बनाए रखने के लिए स्वेद ग्रंथियां कई बार अति सक्रिय हो जाती हैं

गर्मियों में शरीर का तापमान संतुलित बनाए रखने के लिए स्वेद ग्रंथियां कई बार अति सक्रिय हो जाती हैं। यह स्थिति हाइपरहाइड्रोसिस ( hyperhidrosis ) कहलाती है। इसमें हथेली-तलवे पर काफी पसीना आता है।आइए जाने इसके बारे में :-

गंभीर बीमारी नहीं :
विशेषज्ञाें के अनुसार हथेली या तलवे पर सामान्य से अधिक पसीना आना स्वेद ग्रंथियों में गड़बड़ी बताता है। इलाज के रूप में दवाओं या घरेलू उपायों से राहत मिल सकती है। हथेली में ज्यादा पसीना आना पामर हाइपरहाइड्रोसिस व तलवे में पसीना आने को प्लांटर हाइपरहाइड्रोसिस कहलाता है।

तापमान घटाता:
कुछ खास ग्रंथियां पूरी त्वचा को ढके रखती हैं। शरीर का तापमान बढ़ते ही इन ग्रंथियों से त्वचा की सतह पर एक पदार्थ निकलता है जो भाप बनकर उड़ते ही तापमान कम कर देता है। ऐसे में कच्चे आलू को त्वचा पर मलने और पानी में तेजपत्ता उबालकर और इसे ठंडा कर हथेलियों व तलवों पर लगाने से पसीना कम आता है।