स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

बच्चे कर रहे थे इंतजार और मास्साब नशे में रहे मदमस्त

Rajkumar Yadav

Publish: Oct 20, 2019 09:26 AM | Updated: Oct 19, 2019 21:58 PM

Dindori

पूर्व में हुई शिकायत पर रोकी जा चुकी है वेतन

डिंडोरी. स्कूल शिक्षा का मंदिर होता है और स्कूल मे पढाने वाला अध्यापक उस स्कूल का भगवान, जो अपने शिष्यों को अंधकार से प्रकाश की ओर ले जाता है तथा उनका भविष्य गढ़ता है। लेकिन जब यही शिक्षक मान मर्यादाओं का उल्लंघन कर शराब के नशे में चूर हो तो नि:संदेह उस स्कूल का भविष्य क्या होगा यह अंदाजा सहज ही लगाया जा सकता है। कुछ ऐसा ही वाक्या जिले के बजाग विकास खंड अंतर्गत बैगान टोला में संचालित विद्यालय का प्रकाश में आया है। जहां पदस्थ कथित शिक्षक बिना अवकाश की सूचना दिए ही स्कूल जाने की वजाय जंगल मे घंटों पड़ा रहा और स्कूल में अध्ययनरत बच्चे इंतजार करते रहे। स्थानीयजनों के मुताबिक कथित शिक्षक आदतन शराबी है और अक्सर ही नशे में चूर हो स्कूल पहुंच जाता है।
पहले भी प्राप्त हुई शिकायतें
इस संबंध में बी आर सी बजाग से बात की गई तो उनका कहना था कि शिक्षक के विरुद्ध पहले भी अनेकों शिकायतें प्राप्त हुई है। जिसके चलते शराबी शिक्षक की वेतन वृद्धि भी रोकी जा चुकी हैं। पुन: उक्त शिक्षक की लापरवाही उजागर हुई है तो नि:संदेह उचित कार्यवाही की जायेगी।