स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

कंटेनर की चपेट से बाइक सवार दो किशोरों की मौत

Naresh Kumar Lawaniyan

Publish: Sep 19, 2019 15:31 PM | Updated: Sep 19, 2019 15:31 PM

Dholpur

लपुर. स्कूल की छुट्टी के बाद घर से चंबल नदी देखने निकले तीन किशोरों की बाइक को आगरा-ग्वालियर राष्ट्रीय राजमार्ग पर चंबल नदी के मोड़ पर कंटेनर ने
टक्कर मार दी। घटना में दो किशोरों की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि एक किशोर गंभीर रूप से घायल हो गया, जिसे इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने शवों का पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल के शवगृह में रखवाया गया है।

कंटेनर की चपेट से बाइक सवार दो किशोरों की मौत
एक किशोर गंभीर घायल, अस्पताल में भर्ती
आगरा-ग्वालियर राष्ट्रीय राजमार्ग स्थित चंबल पुल के पास की घटना

धौलपुर. स्कूल की छुट्टी के बाद घर से चंबल नदी देखने निकले तीन किशोरों की बाइक को आगरा-ग्वालियर राष्ट्रीय राजमार्ग पर चंबल नदी के मोड़ पर कंटेनर ने
टक्कर मार दी। घटना में दो किशोरों की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि एक किशोर गंभीर रूप से घायल हो गया, जिसे इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने शवों का पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल के शवगृह में रखवाया गया है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार शहर के समीपवर्ती गांव जिरौली निवासी निशु जाट(17) पुत्र रोशनलाल, ओडेला रोड निवासी सागर परमार (17) पुत्र हीरासिंह और रिषीराज पुत्र भूप सिंह शहर के एक निजी विद्यालय में कक्षा 12 वीं में अध्ययनरत थे। बुधवार दोपहर स्कूल से घर पहुंचने के बाद घर पर चंबल देखने जाने की बात कहते हुए तीन किशोर बाइक से सवार होकर निकल पड़े। रास्ते में आगरा-ग्वालियर राष्ट्रीय राजमार्ग पर चंबल नदी के मोड़ पर पहुंचने पर बाइक को एक कंटेनर ने टक्कर
मार दी।
घटना में निशु जाट व सागर परमार की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि रिषीराज पुत्र भूप सिंह घायल हो गया। सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने कंटेनर को जब्त करते हुए चालक को गिरफ्तार कर लिया और शवों को अस्पताल पहुंचाया।
सागर चला रहा
था बाइक
घटना में घायल ओडेला रोड निवासी रिषीराज पुत्र भूप सिंह ने बताया कि निशु, सागर उसके गहरे दोस्त थे। स्कूल में सभी एक ही कक्षा में पढ़ते थे। छुट्टी के बाद घर पर
मम्मी से कहकर हम तीनों बाइक से सवार होकर चंबल देखने जा रहे थे। इस दौरान बाइक सागर परमार चला रहा था। इस दौरान तीनों गिर गए और दुर्घटना का शिकार हो गए।
इकलौता पुत्र था सागर
घटना में कंटेनर की चपेट में आने पर मौत का शिकार हुआ सागर अपने माता-पिता का इकलौता पुत्र था। सागर के पिता हीरालाल रेलवे में नौकरी करते हैं और उसके एक बड़ी बहन भी है। सागर की मौत की सूचना मिलने पर उसके सभी रिश्तेदार जिला अस्पताल शवगृह पहुंच गए और उसके परिवार को ढांढ़स बंधाने लगे। इस दौरान उसके परिजन को रो-रोकर बुरा हाल था।
तीन भाइयों में सबसे छोटा था निशु
घटना का शिकार हुए निशु जाट अपने तीन भाइयों में सबसे छोटा था और सब उसे बहुत प्यार करते थे। घटना की जानकारी जैसे ही परिजन को पहुंची तो वे रोते हुए अस्पताल पहुंचे। इस दौरान निशु के भाइयों का रो-रोक कर बुरा हाल हो गया। मौजूद लोगों ने उन्हें संभाला और ढांढस बांधा।
एएसआई का पुत्र घायल
घटना में घायल रिषीराज के पिता भूप सिंह हाल में धौलपुर में राजस्थान पुलिस में एएसआई के पद पर कार्यरत है। घटना में रिषीराज के एक पैर में गंभीर चोट आई है। सूचना मिलने पर घायल के परिजन अस्पताल पहुंच गए और मामले की जानकारी जुटाई। इसके बाद परिजन घटना में मृत किशोरों के परिवार को ढांढस बांधने के लिए पहुंचे।