स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

रजौरा कलां माइनर की पटरी टूटी, खेतों मेंं भरा पानी

Mahesh Gupta

Publish: Nov 19, 2019 16:21 PM | Updated: Nov 19, 2019 16:21 PM

Dholpur

सिंचाई विभाग के अधिकारियों की अनदेखी के चलते नहर व वितरिकाओं की समुचित सफाई नहीं होने से पटरी टूटने से अनेक किसानों के खेतों में पानी भरने से फसल को नुकसान हो रहा है। किसानों ने बताया कि रविवार रात्रि को रजौरा कला माइनर की सफाई ना होने से दो जगह से माइनर की पटरी टूट गई।

किसानों ने लगाया सफाई नहीं कराने का आरोप
सैंपऊ. सिंचाई विभाग के अधिकारियों की अनदेखी के चलते नहर व वितरिकाओं की समुचित सफाई नहीं होने से पटरी टूटने से अनेक किसानों के खेतों में पानी भरने से फसल को नुकसान हो रहा है। किसानों ने बताया कि रविवार रात्रि को रजौरा कला माइनर की सफाई ना होने से दो जगह से माइनर की पटरी टूट गई। इससे खेतों में पानी भर जाने से फसल जलमग्न हो गई। इन खेतों में करीब चार दिन पूर्व ही गेहूं की बुवाई की थी। इससे किसानों को इन खेतों में पुन: बुवाई करनी पड़ेगी। किसान जनक सिंह लोधा, गुरदयाल लोधा सहित अनेक किसानों ने बताया कि अधिकारियों से कई बार मांग करने के बावजूद माइनर की सफाई नहीं कराई गई है। इससे माइनर की पटरी टूट गई और सूचना के बाद भी कोई भी कर्मचारी मौके पर नहीं पहुंचा तथा किसानों को स्वयं ही मरम्मत कर पानी रोका गया। लेकिन कुछ ही दूरी पर क्षतिग्रस्त पुलिया के पास कचरा जमा होने से नहर का पानी उफन कर खेतों में भर गया।
इनका कहना है
रजौरा कला माइनर दूसरे अधिकारियों के क्षेत्र में आता है लेकिन फिर भी सुबह मौके पर पहुंचकर सफाई कराई जाएगी।
पूरन चंद मंगल सहायक अभियंता सिंचाई विभाग सैंपऊ
माइनर की पटरी टूटने की सूचना मिलने पर मौके पर पहुंचकर स्थिति का जायजा लिया और अधिकारियों से बात की है, जल्द ही माइनर की सफाई कराई जाएगी।
अजय कांत शर्मा चेयरमैन पार्वती नहर परियोजना सैंपऊ

[MORE_ADVERTISE1]