स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

जिले में बाढ़ के हालात, कलक्टर ने ली आपात बैठक

mahesh gupta

Publish: Sep 15, 2019 12:34 PM | Updated: Sep 15, 2019 12:34 PM

Dholpur

चम्बल नदी में बढ़ते जलस्तर को देखते हुए जिला कलक्टर नेहा गिरी ने जिला स्तरीय अधिकारियों की आपात बैठक ली। प्रभारी मंत्री व पर्यटन मंत्री विश्वेन्द्र सिंह धौलपुर पहुंच चुके हैं। जिले में बाड़ी, सरमथुरा क्षेत्र के चम्बल तटवर्ती गांवों में पानी घुसने के कारण सेवर-पाली में मौका स्थिति देखने के लिए अधिकारी व मंत्री पहुंचे हैं।

धौलपुर. चम्बल नदी में बढ़ते जलस्तर को देखते हुए जिला कलक्टर नेहा गिरी ने जिला स्तरीय अधिकारियों की आपात बैठक ली। प्रभारी मंत्री व पर्यटन मंत्री विश्वेन्द्र सिंह धौलपुर पहुंच चुके हैं। जिले में बाड़ी, सरमथुरा क्षेत्र के चम्बल तटवर्ती गांवों में पानी घुसने के कारण सेवर-पाली में मौका स्थिति देखने के लिए अधिकारी व मंत्री पहुंचे हैं। जिला प्रभारी सचिव शुचि शर्मा भी धौलपुर पहुंचने वाली है। चंबल के किनारे से लगते गांवों पर सतर्कता बनाए रखने के लिए निर्देश दिए। उन्होंने चंबल डांग इलाके के सुदूरगांव सेवर, मुतावली, धनैरा, खुडिला, अंण्डपुरा, टीकतपुर, चीलपुर, बड़ापुर, बरेलापुरा, कस्बानगर, महदपुर, शंकरपुर, रूंध का पुरा, धनावली एवं अंधियारी आदि गांवों पर चौकन्ने रहने के निर्देश दिए। सीएमएचओ को चिकित्सा व्यवस्था दुरुस्त रख टीम गांवों में भेजने, विद्युत निगम अधिकारियों को सुचारू व्यवस्था रखने के निर्देश दिए। ग्रामीणों के लिए भोजन के पैकेट उपलब्ध करवाने के निर्देश दिए। जिले में अवस्थित अन्य नदियों के किनारे बसे गांवों में लगातार संपर्क करने एवं बाढ़ जैसी स्थिति से बचाव बाबत आवश्यक सतर्कता बनाए रखने के निर्देश दिए। चंबल के किनारे वाले गांवों में जलभराव जैसी स्थिति की सूचना अविलंब जिला मुख्यालय के बाढ़ नियंत्रण कक्ष के दूरभाष नंबर 056 42-220033 पर देने के निर्देश दिए हैं। पुलिस अधीक्षक मृदुल कच्छावा ने कहा कि चंबल नदी से लगते हुए थानों में मैस की व्यवस्था चालू है। किसी भी आपात स्थिति में सम्बन्धित थाने की मैस से भोजन की व्यवस्था की जा सकती है। उन्होंने कहा कि थानों में रूकने के लिए बैरिक में व्यवस्था की जाएगी। अफवाह ना फैलने दें।