स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

जिले में उधार के अधिकारी, फरियादी घनचक्कर

mahesh gupta

Publish: Sep 13, 2019 21:32 PM | Updated: Sep 13, 2019 21:32 PM

Dholpur

जिले में आमजनता से सीधे जुड़े प्रशासनिक एवं विभागीय अधिकारियों के पद रिक्त होने के कारण उधार के अधिकारियों से काम चलाना पड़ रहा है। इसके फेर में फरियादी घनचक्कर हो रहे हैं। एक तरफ अधिकारियों पर काम का बोझ बढ़ गया है तो वहीं फरियादियों को अधिकारी अपने कार्यालयों में नहीं मिलते हैं।

अधिकारियों के पास दो से तीन चार्ज
कभी इस कार्यालय में तो कभी दूसरे कार्यालय में
अधिकारियों पर कार्य का बोझ तो फरियादी लगाते रहते हैं चक्कर
धौलपुर. जिले में आमजनता से सीधे जुड़े प्रशासनिक एवं विभागीय अधिकारियों के पद रिक्त होने के कारण उधार के अधिकारियों से काम चलाना पड़ रहा है। इसके फेर में फरियादी घनचक्कर हो रहे हैं। एक तरफ अधिकारियों पर काम का बोझ बढ़ गया है तो वहीं फरियादियों को अधिकारी अपने कार्यालयों में नहीं मिलते हैं। कभी मूल स्थान पर तो कभी कार्यवाहक कार्यालय में बैठने के चलते फरियादी एक से दूसरे कार्यालय में चक्कर लगाते रहते हैं। इससे योजनाओं को तो अमली जामा पहनाना दूर की बात, छोटे-छोटे कार्यों के लिए आमजन घण्टों इंतजार करते रहते हैं। इससे सरकार का जवाबदेही शासन का दावा भी धूमिल होता जा रहा है।
एक-एक अधिकारी पर तीन-तीन चार्ज
जिले में एक ही पद पर कामकाज का भारी बोझ होने के बावजूद रिक्त पदों के चलते एक ही अधिकारी को तीन-तीन अधिकारियों का कार्यभार दे रखा है। इसके चलते कार्य भी प्रभावित हो रहे हैं। वहीं आमजनता को समय से राहत नहीं मिल पा रही है। धौलपुर उपखण्ड अधिकारी के पास एसडीएम के अलावा एडीएम तथा एसीएम का चार्ज है। वहीं धौलपुर, सैंपऊ, बाड़ी व बसेड़ी विकास अधिकारियों के पास बीडीओ के अलावा सहायक अभियंता, सीडीपीओ का भी कार्यभार है। वहीं सार्वजनिक निर्माण विभाग व विद्युत निगम के अधिशासी अभियंताओं के पदों पर भी कार्यवाहक अधिकारी लगे हुए हैं।

जिले का बदला प्रशासनिक ढांचा
धौलपुर. राज्य सरकार की ओर से शुक्रवार शाम को जारी की गई तबादला सूची में जिले का प्रशासनिक ढांचा ही बदल दिया। सूची में अतिरिक्त जिला कलक्टर के रिक्त पद पर अधिकारी लगाने के साथ जिले में छह उपखण्डों में से तीन उपखण्ड अधिकारी बदले हैं, जबकि बसेड़ी उपखण्ड अधिकारी के रिक्त पद को भी भरा गया है। वहीं अतिरिक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी का भी तबादला कर दिया गया है। सूची के अनुसार अतिरिक्त जिला कलक्टर पद पर उपखण्ड अधिकारी कठूमर, अलवर से नरेन्द्र कुमार वर्मा को लगाया गया है। यह पद डेढ़ माह से रिक्त चल रहा था। वहीं धौलपुर में हाल ही लगाए गए उपखण्ड अधिकारी कैलाश चन्द्र मीणा का तबादला आसींद कर उनके स्थान पर मांगरौल, बारां से आशीष कुमार को पदस्थापित किया गया है।
इसी प्रकार राजाखेड़ा उपखण्ड अधिकारी मुकेश कुमार के स्थान पर आसींद, भीलवाड़ा से संतोष कुमार गोयल को लगाया है। जबकि मुकेश कुमार का स्थानांतरण रायपुर, भीलवाड़ा किया गया है।
वहीं बाड़ी उपखण्ड अधिकारी सुमन देवी का तबादला डीग, भरतपुर कर उनके स्थान पर तहसीलदार सेवा से पदोन्नत बृजेश कुमार मंगल को पदस्थापित किया है। इसी क्रम में बसेड़ी एसडीएम के खाली पद पर कोटा एसडीएम दिवांशु शर्मा को लगाया गया है।
दूसरी ओर जिला परिषद के अतिरिक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी जितेन्द्र सिंह नरूका का तबादला ओएसडी (भूमि) नगर विकास न्यास अलवर के पद पर किया गया है।