स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

पितृ मोक्ष अमावस्या के दिन करें ये उपाय, पितृ हो जाएंगे संतुष्ट

Tanvi Sharma

Publish: Sep 22, 2019 12:21 PM | Updated: Sep 22, 2019 12:21 PM

Dharma Karma

पितृमोक्ष अमावस्या के दिन पितरों को तृप्त यानि संतुष्ट करने के लिये करें उपाय

इस बार पितृमोक्ष अमावस्या पर बहुत ही शुभ योग बन रहा है। इस संयोग में पितृमोक्ष अमावस्या के दिन शनिवार पड़ रहा है। पितृमोक्ष अमावस्या 28 सितंबर 2019 को पड़ रही है। इस दिन शनिवार है, जो कि पितृमोक्ष अमावस्या के साथ मिलकर बहुत शुभ संयोग बना रही है। इस अमावस्या का श्राद्ध पक्ष में अधिक महत्व माना जाता है। पितृमोक्ष अमावस्या के दिन सभी ज्ञात-अज्ञात पितरों का श्राद्ध किया जाता है। इसलिए इसे सर्वपितृ अमावस्या भी कहते हैं।

 

pitru moksha amavasya

पंडित रमाकांत मिश्रा के अनुसार पितृपक्ष अमावस्या पर कुछ ऐसे सामान्य उपाय होते हैं, जिन्हें करने के बाद पितरों को तृप्त यानि संतुष्ट किया जा सकता है। आइए जानते हैं पितृ मोक्ष अमावस्या ( Pitru moksha amavasya 2019 ) के दिन किन उपायों को करना चाहिए-

 

pitru moksha amavasya

1. पीपल के पेड़ के नीचे लगाएं दीपक

पितृ मोक्ष अमावस्या के दिन सुबह जल्दी उठकर पितरों के निमित्त घर का बना मिष्ठान व शुद्ध जल की मटकी पीपल के पेड़ के नीचे अपने पितरों के निमित्त रखकर वहां दीपक जलाएं।

2. गाय को खिलाएं हरी पालक

पितृ मोक्ष अमावस्या के दिन दिन कुतप-काल के समय अपने पितरों के निमित्त गाय को हरी पालक खिलाएं। पितरों को संतुष्टी मिलेगी।

3. जरुर करें तर्पण

पितृ मोक्ष अमावस्या के दिन सुबह जल्दी उठकर तर्पण करें। तर्पण का पितृ पक्ष में बहुत अधिक महत्व माना जाता है।

4. आमान्य दान करें

पितृ मोक्ष अमावस्या पर दान करना बहुत अच्छा माना जाता है। इस दिन किसी भी मंदिर में या ब्राह्मण को आमान्य दान जरुर करें।

5. चांदी का दान करें

पितृ मोक्ष अमावस्या बहुत बड़ी अमावस्या मानी जाती है। इस दिन पितरों के निमित्त किये उपाय उन को संतुष्ट कर देते हैं, इसलिए इस दिन चांदी का दान जरुर करें।

6. तेल का चौमुखा दीपक रखें

पितृ मोक्ष अमावस्या के दिन अपने पितरों के निमित्त तेल का चौमुखा दीपक रखें। सूर्यास्त के बाद घर की छत पर दिपक रखें और ध्यान रखें की आपका मुख दक्षिण दिशा में रखें।