स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

ट्रैफिक के दबाव से लगता है जाम

sarvagya purohit

Publish: Oct 21, 2019 11:11 AM | Updated: Oct 21, 2019 11:11 AM

Dhar


ट्रैफिक के दबाव से लगता है जाम


-चौकी समीप होने के बावजूद भी नहीं देते है पुलिसकर्मी ध्यान
धार.
शहर के सबसे व्यस्तम में से एक मार्ग बस स्टैंड मार्ग है। यहां पर धामनोद, धरमपुरी, खरगोन, मांडू, अलीराजपुर, झाबुआ, बदनावर, कानवन, राजौद, दसाई सहित अन्य मार्गों की बसें यहां पर आती है। मार्ग सकरा होने के चलते यहां पर बार-बार जाम की स्थिति निर्मित होती है। इस मार्ग पर यदि दो बस एक साथ निकलती है तो यहां जाम लग जाता है और सबसे ज्यादा समस्या पैदल चलने वालों के साथ दो पहिया वाहन चालकों भी होती है। बस स्टैंड के समीप पुलिस चौकी है यहां पर पुलिस जवान बैठे रहते है, लेकिन इस मार्ग पर से ट्रैफिक को दुरुस्त करने के लिए किसी भी प्रकार की मदद नहीं करते है। वहीं यह स्थिति डिपो मार्ग पर बनती है। डिपो के समीप चार्टड बस का कार्यालय खुला है। चार्टड बस के यहां खड़े रहने के कारण यहां पर मनावर, बदनावर, झाबुआ, अलीराजपुर, कुक्षी, गंधवानी की बसें गुजरती है तो यहां पर बार-बार जाम लग जाता है। डिपो से कुछ दुरी पर ही एक ओर पुलिस चौकी है। इसके बावजूद भी यहां से ट्रैफिक का दबाव कम करने के लिए वाहनों को आगे नहीं बढ़ाया जाता है। चार्टड बस यदि डिपो में खड़ी होकर सवारियों को बैठाए तो यहां पर अन्य बसों, चार और दो पहिया वाहनों को निकलने में किसी भी प्रकार को दिक्कत नहीं आएगी, लेकिन जिम्मेदारों का इस ओर कोई ध्यान नहीं रहता है। वहीं इस मार्ग पर दो पहिया वाहनों को सुधारने के ऑटो गैरेज भी है और वह भी दो पहिया वाहन रोड पर ही खड़ा कर देते है यह एक बड़ी समस्या बनकर इस मार्ग पर उभर रही है।