स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

डस्टबीन लगाकर भी नपा की लापरवाही से कचरा हो रहा शहर

atul porwal

Publish: Oct 19, 2019 11:14 AM | Updated: Oct 19, 2019 11:14 AM

Dhar

नगर पालिका में स्वच्छता शाखा के पीछे ही पसरी पड़ी गंदगी, लापरवाही से बदरंग हो रहा धार

पत्रिका पड़ताल

धार.
स्वच्छता में नंबर वन आने के लिए तीन निजी कंपनियों को ठेका दे रखा है, वहीं स्वयं नगर पालिका के 325 सफाई कामगार 22 कचरा गाडिय़ां, झाडू आदि लेकर रोज दौड़ लगा रहे हैं। शहर में लगभग 130 डस्टबीन लगे हैं तो प्रतिदिन 40 टन कचरा उठाने का दावा भी हो रहा है। इसकी पोल शहर भर में नगर पालिका द्वारा लगाए गए डस्टबीन ही खोल रहे हैं, जिनकी एक-एक सप्ताह तक सफाई नहीं होती। इसके अलावा नगर पालिका में बनी स्वच्छता शाखा के पिछे ही गंदगी पसरी पड़ी है, जिससे साफ हो रहा है कि शहर को स्वच्छता में नंबर वन बनाने के लिए कागजी खानापूर्ति कर लाखों रुपए का चूना लगाया जा रहा है।

ये है स्वच्छता में अव्वल आने की तैयारी का पैमाना
नगर पालिका के हेल्थ ऑफिसर नसीर खान का कहना है कि शहर को साफ सुधरा रखने के लिए हमने कोई कसर नहीं छोड़ रखी है। शहर की जनता से अनुरोध, निवेदन करने के साथ हमारी 22 कचरा गाडिय़ां तडक़े से देर शाम तक दौड़ रही है। नसीर खान का दावा है कि कचरा गाडिय़ां पूरे शहर से कचरा उठा रहे है, जबकि के नीचली बस्तियों में ना तो कचरा गाड़ी जा रही है और ना ही यहां के लोगों को स्वच्छता का पाठ पढ़ाया गया। गौरतलब है कि शहर की नीचली बस्तियों में ही सबसे अधिक गंदगी और कचरा पसरा रहता है।

ये है नपा का स्वच्छता अमला और साधन
कुल वार्ड- 30
जनसंख्या- 1.30 लाख(लगभग)
कचरा गाडिय़ां- 22
सफाई कामगार और कचरा गाड़ी चालक-505
डस्टबीन- 130
प्रतिदिन कचरा उठाने का दावा- 40 टन

ये हैं नपा के साथ काम करने वाली निजी कंपनियां
1. डिवाईन वेस्ट मैनेजमेंट, इंदौर
2. रतन एम्पोरियम, धार
3. ह्युमन मेट्रीक्स, इंदौर

लगातार काम सुधार रहे हैं
शहर का स्वच्छ बनाने के लिए हम लगातार अच्छा काम कर रहे हैं, वहीं हर शिकायत को गंभीरता से ले रहे हैं। और अच्छा काम कर जल्द ही शहर को कचरा मुक्त करेंगे।
-विजय कुमार शर्मा, सीएमओ, नपा धार