स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

अतिरिक्त भूमि का मुआवजे के लिए पहुंचे ग्रामीण

sarvagya purohit

Publish: Jul 20, 2019 11:06 AM | Updated: Jul 20, 2019 11:06 AM

Dhar


अतिरिक्त भूमि का मुआवजे के लिए पहुंचे ग्रामीण


धार.
माहीबांध में डूब में आई अतिरिक्त भूमि का मुआवजा दिलाने के लिए ग्रामीण कलेक्टर कार्यालय पहुंचे।
शुक्रवार को सरदारपुर तहसील के ग्राम मोलान, हनुमंतिया, सिगेश्वर, गोदिंखेड़ा, चारण, बोडिया, गुलरीपाड़ा, मसारपाड़ा, लालजीपाड़ा और जोलाना के ग्रामीण कलेक्टर कार्यालय पहुंचे। उन्होंने बताया कि माही बांध में पूर्व जलभराव करने पर ग्राम मोलान, हनुमंतिया, सिगेश्वर, गोदिंखेड़ा, चारण, बोडिया, गुलरीपाड़ा, मसारपाड़ा, लालजीपाड़ा और जोलाना आदि गांव की १७३ व्यक्तियों की लभगभ ५० हेक्टयर जमीन (जिनका मुआवजा नहीं दिया था वह) डूब में आ गई है। उक्त जमीन के लिए हम पीडि़त लोगों २०१३ से सिंचाई व राजस्व के चक्कर लगाकर थक हार गए है। अगर हमारे हक का मुआवजा १० जिन में नहीं मिला तो हम लोग आंदोलन करने के लिए बाध्य होगे।

--------

 

नीलगाय चट कर रही है फसलें
खिलेड़ी.
फसल की बोवनी के बाद क्षेत्र के किसान को तेज बारिश का इंतजार है। क्षेत्र में बोवनी हुए दो से तीन सप्ताह बारिश की खेंच हो गई है। इससे सड़कों पर धूल उडऩे लगी है। बारिश नहीं होने से उमस भी लगातार बढ़ रही है। लोगों को गर्मी और उमस से परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। किसानों के साथ ही लोग अब आसमान की ओर टकटकी लगाकर देख रहे हैं। वहीं जो फसलें खेतों में लहलहा रही है, उनको नीलगाय नष्ट कर रही है। किसान ओमप्रकाश पाटीदार व राधेश्याम चौहान ने बताया कि खेतों मे झुंड के झुंड नीलगाय आकर फसलें चौपट कर रही है। इनकी संख्या 30 से 32 के करीब है, जो दिनभर खेतों में दौंड लगाकर फसलें चौपट कर रही है। इनको भगाने के लिए कई तरह के जतन करने पड रहे लेकिन सफलता नहीं मिल रही है।