स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

डूब प्रभावितों से बोलीं पूर्व मंत्री- हमें हटाया इसलिए भुगत रहे हो, ग्रामीणों का गुस्सा देख उल्टे पांव वापस लौटीं

Pawan Tiwari

Publish: Sep 15, 2019 11:04 AM | Updated: Sep 15, 2019 11:04 AM

Dhar

ग्रामीणों ने कहा- भ्रष्टाचार आपकी देन, इसलिए आपको हटाया।

धार. भाजपा की पूर्व विधायक और शिवराज कैबिनेट में मंत्री रहीं रंजना बघेल ने ग्रामीणों पर गुस्सा निकालते हुए विवादित बयान दिया है। शनिवार को धार जिले के मनावर पहुंचीं रंजना बघेल के सामने ग्रामीणों ने अपनी समस्या बताई तो नाराज होकर रंजना बघेल ने कहा- मुझे हटा दिया तभी आप लोग भुगत रहे हो।

डूब प्रभावितों से मिलने पहुंचीं थी रंजना बघेल
रंजना बघेल शनिवार को मनावर विधानसभा के एकलबारा गांव में ग्रामीणों से मुलाकात करने पहुंचीं थी। यहां ग्रामीणों ने पूर्व मंत्री को अपनी समस्या बताई जिसके नाराज होकर रंजना बघेल ने कहा- हमको हटाया इसलिए भुगत रहे हो तुम।

जनता के जवाब नहीं दे पाईं
ग्रामीणों ने उनसे कई सवाल पूछे जिसका रंजना बघेल जवाब नहीं दे पाईं। ग्रामीणों को आक्रोशित देख वो उल्टे पैर वापस लौट आईं। ग्रामीणों ने मुआवजा को लेकर रंजना बघेल से सवाल किए। इसके बाद वहां मौजूद लोगों ने शिवराज सरकार पर वादा खिलाफी का आरोप लगाते हुए हंगामा किया। इस दौरान एक ग्रामीण ने कहा- दीदी पूरे परिवार के साथ हम मर जाएंगे। मेरा 2013 का बिजली का बिल भी माफ नहीं हुई है। ग्रामीणों ने एक-एक कर के पूर्व मंत्री से कई सवाल किए। मंत्री के बेतुके बयान से ग्रामीण आक्रोशिक हो गए।

पैसे कहां खर्च हुए?
ग्रामीणों ने कहा- केन्द्र और राज्य की पिछली सरकारों ने 900 करोड़ रुपया डूब क्षेत्र के विस्थापितों के लिए स्वीकृत किया था उसमें भ्रष्टाचार हुआ है और आज भी हो रहा है। वह आप सब लोगों की देन है। आज हमारा सबकुछ खत्म हो रहा है। इसे जिम्मेदार आप ही हैं। हमारा दर्द सरकारों ने नहीं समझा।

मनावर से चुनाव हार गईं हैं रंजना बघेल
रंजना बघेल धार की मनावर विधानसभा सीट से तीन बार विधायक रहीं। पूर्व शिवराज सिंह सरकार में मंत्री थीं। 2018 के विधानसभा चुनाव में रंजना बघेल पहली बार मैदान में उतरे हीरालाल अलावा से चुनाव हार गईं थीं।