स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

व्यापारी के चालक की आंख में मिर्ची डालकर लूट करने वाले तीन आरोपियों को पुलिस पकड़ा

sarvagya purohit

Publish: Oct 13, 2019 11:03 AM | Updated: Oct 13, 2019 11:03 AM

Dhar


व्यापारी के चालक की आंख में मिर्ची डालकर लूट करने वाले तीन आरोपियों को पुलिस पकड़ा

 


- क्राइम ब्रांच और टांडा पुलिस ने तीन आरोपियों को पकड़ा
- आरोपियों से मोटर सायकल और नकदी जब्त किए
धार.
१५ दिन पहले टांडा क्षेत्र में बकरा व्यापारी के चालक की आंख में मिर्ची डालकर व्यापारी से लूट करने वाले तीन आरोपियों को पुलिस पकड़ा। पुलिस ने आरोपियों से लूट के ३८ हजार रुपए नकद एवं घटना में उपयोग की गई एक मोटर सायकल बरामद की है।
शनिवार को एसपी कार्यालय में एसपी आदित्यप्रताप सिंह ने प्रेसवार्ता ली। प्रेसवार्ता में एसपी सिंह ने बताया कि थाना प्रभारी टांडा सुभाष सुल्या को मुखबिर से सूचना मिली थी कि इन दिनों सूनसाथ क्षेत्र में राहगीरों एवं मोटर वाहनों को रोककर उनकसे मारपीट कर लूट, डकैती करने वाला गिरोह सक्रिय है। उसी गिरोह के तीन सदस्य भारत उर्फ बायसिंह मंडलोई निवासी काकड़कुआ, कमा उर्फ कमलेश मंडलोई निवासी काकड़कुआ व चंदु उर्फ संजय पिता कैलाश बामनिया निवासी करचट काकड़वा चौराहे पर एक सफेद रंग की मोटर सायकल लेकर खड़े है। जिन्हें यदि पकड़ा जाए तो अवश्य ही जिले की कई लूट, डकैती जैसी घटनाओं का खुलासा हो सकता है। साथ ही इसी गिरोह ने १० से १२ दिनों पहले बोरी से टांडा रोड पर काकड़कुआ के पास एक पीकअप गाड़ी को रोककर लूटपाट की है। पुलिस ग्राम करचट काकड़वा चौराहे पर पहुंची तो पुलिस को देखकर तीन व्यक्ति घबराकर भागने लगे, जिन्हें टीम द्वारा घेराबंदी कर पकड़ा।
तीन साथियों के नाम भी बताए
एसपी सिंह ने बताया कि क्राइम ब्रांच और टांडा पुलिस ने इन तीनों आरोपियों से पुछताछ की तो इन्होंने कमलेश पिता रूशन निवासी गडरावद, दीपू पिता रमेश निवासी तरसिंग और करण पिता समरू निवासी बगोली के साथ मिलकर टाडा रोड की ओर आ रही पीकअप के चालक को काकड़कुआ के पास रचालक की आंखों में मिर्ची उड़ाकर पीकअप गाड़ी रूकवाई थी तथा उसके चालक व एक अन्य व्यक्ति के साथ मारपीट कर उनके कब्जे से १ लाख ३ हजार रुपए 2 मोबाइल फोन लूटे थे। पूछताछ में इन्होंने बताया कि लूट की रकम हमने आपस में बराबर-बराबर बाट लिए थे। मोटर सायकल वपैसे घर में छुपाकर रखी है तथा दोनों मोबाइल कमलेश व दीपू के पास है।टीम द्वारा तीनों आरोपियों से लूटे गए मश्रुका में से नकद ३८ हजार रुपए एवं घटना में उपयोग की गई आरोपी चंदू की सफेद रंग की मोटर सायकल जब्त की है।
मोटर सायकल भी चुराई थी
क्राइम ब्रांच टीम द्वारा पूछताछ में बायसिंह ने बताया कि उसने एक वर्ष पूर्व राजगढ़ राणापुर ारेड पर उसके अन्य साथियों के साथ मिलकर एक मोटर सायकल वाले के साथ लूट की थी, जिसमें अभी तक मेरी गिरफ्तारी नहीं हुई है। अन्य आरोपी चंदू ने पूर्व में थाना निवाली जिला बड़वानी में डकैती की तैयारी में बंद होना तथा धार ३४ (२) आबकारी एक्ट में भी गिरफ्तार होना बतयाा तथा झाबुआ व अलीराजपुर से मोटर सायकल चुराने की बात भी स्वीकार की है। पूछताछ में तीनों आरोपियों द्वारा लूट की कई ऐसी वारदाते भी कबूल की गई है, जिमें लूटा गया पैसा कम होना व कम कीमत के मोबाइल लूटे जाने से फरियादियों द्वारा घटना की रिपोर्ट थानों पर दर्ज नहीं होना पाया गया है।