स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

निजी खर्च से लगाए पौधे रात में उखाड़ फैंके

Amit S mandloi

Publish: Aug 24, 2019 12:38 PM | Updated: Aug 24, 2019 12:38 PM

Dhar

सिल्वर हिल की निजी जमीन पर लगाए थे 20 पौधे

धार.
एक पर्यावरण चिंतक ने सिल्वरहिल कालोनी की जमीन पर पौधे लगाए थेे। पौधे लगाने का उद्देश्य हरियाली था । खाली प्लाट पर लोग कचरा फैंक रहे थे, जिससे रोकथाम हो जाती,लेकिन शहर के पर्यावरण विरोधी लोगों ने पौधों को रात में ही उखाड़ फैंका है। जो पौधे दो से ढाई फीट के थे उन्हें दराती से काटकर फैंक दिया है। ये जमीन निजी है, जमीन मालिक ने कहा कि पौधारोपण तो अच्छी बात है।

सिल्वरहिल कालोनी में टावर के पास जमीन है। जिस पर गंदगी रहती थी। उसे देखकर यहां हरियाली करने का मन पर्यावरण प्रेमी डॉ निधिश गुप्ता ने बनाया। उन्होंने स्वयं के खर्च से लकड़ी गडवाकर तार फैंसिंग कराई। उसके बाद लगभग 20 से अधिक पौधे लगाए। पौधे लगाने का मकसद हरियाली था। साथ ही जमीन को स्वच्छ रखना था, लेकिन उनका नेक ईरादा पर्यावरण विरोधिश्योंं के आगे हार गया। दो दिन पहले लगाए लगभग एक से डेढ़ फीट के 20 से अधिक पौधे गुरुवार की रात उखाड़ दिए कई पौधों को दराते से काट दिया गया। कई घरोंं के बाहर सीसीटीवी कैमरे में भी लगे है, लेकिन डर के मारे लोग फूटेज पुलिस को सौंप नहीं पा रहे है। डॉ गुप्ता ने बताया कि उन्होंने सिर्फ हरियाली के लिए पौधों का रोपण किया था। गुप्ता ने लगभग 20 हजार से अधिक खर्च किए थे। इसके पूर्व भी कई स्थानों पर गुप्ता पौधारोपण कर चुकेहै।

जब शुक्रवार को गुप्ता यहां पहुंचे तो पौधे उखड़े देखकर वे उदास हो गए। उनका कहना था कि ये स्थान लोगों के लिए बगीचे के रूप में विकसित हो सकता था, लेकिन लोगों को हरियाली रास नहीं आ रही है। वहीं जमीन मालिक का कहना है कि अगर कोई पर्यावरण को लेकर काम कर रहा है तो उन्हें कोई परेशानी नहीं है।