स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

ओटी मशीन में खराबी, बता रहे औजार में फफूंद

atul porwal

Publish: Sep 15, 2019 12:01 PM | Updated: Sep 15, 2019 12:01 PM

Dhar

चार दिन तक बंद रहेगी गायनिक ओटी, शनिवार को भी ३ मरीज रैफर

धार.
शनिवार सुबह गायनिक ओटी में एक मरीज का ऑपरेशन हुआ, लेकिन इसके बाद मशीन में कुछ खराबी आ गई। इसके बाद तीन गर्भवती मरीजों को इंदौर रैफर किया गया, जबकि अस्पताल प्रबंधन ओटी में फफूंद की बात कर रहा है। इधर सिविल सर्जन ने 14 से 17 सितंबर तक संक्रमण दूर करने के लिए गायनिक ओटी बंद रहने का सूचना पत्र जारी कर दिया।
गौरतलब है कि जिला अस्पताल में प्रतिदिन एवरेजन 5 गायनिक ओटी होती है, जबकि मेटरनिटी वार्ड में गर्भवतियों की संख्या बेड से ज्यादा रहती है। ज्यादा भीड़ होने से आए दिन डॉक्टर, स्टाफ नर्सों के साथ मरीजों के परिजन का विवाद होता रहता है। बावजूद इसके चार दिन तक मरीजों को रेफर करने के सिलसिले से जिला अस्पताल की साख को बट्टा लगने वाला है। बता दें कि एक ओर कलेक्टर जिला अस्पताल के इंतजाम सुधारने के लिए कई कंपनियों से सीएसआर मद खर्च करने की कवायद कर रहे हैं, वहीं संसाधनों की खराबी और डॉक्टरों की लापरवाही से अस्पताल का नाम खराब हो रहा है।

ये बोले सिविल सर्जन
चार दिन तक गायनिक ओटी बंद होने के मामले में सिविल सर्जन डॉ. एमके बौरासी का कहना है कि लगातार बारिश होने के कारण ओटी मशीन, औजार, फर्नीचर आदि में फफूंद लग गई, जिससे संक्रमण फैलने की संभावना है। इनकी सफाई और संक्रमण दूर करने में कम से कम तीन दिन लगेंगे। अब 18 सितंबर से गायनिक ओटी फिर से शुरू हो जाएगी।