स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

प्रेमिका ने बीवी बनने से किया इनकार तो गुस्से में प्रेमी ने दी ऐसी खौफनाक सजा, गुजरात से पकड़ाया

Hussain Ali

Publish: Aug 25, 2019 16:02 PM | Updated: Aug 25, 2019 16:02 PM

Dhar

- महिला का पिता भी साजिश में शामिल, पुलिस को कर रहा था गुमराह
- चार साल पहले हुई थी पति की मौत, बच्चों के साथ रहती थी मायके में

निसरपुर @ पत्रिका. प्रेमिका ने शादी करने से इनकार कर दिया तो प्रेमी ने उसे खौफनाक मौत दे दी। समीप ग्राम पिपलिया में 21 अगस्त को घर में सो रही महिला की धारदार हथियार से गला रेतकर की गई हत्या का पुलिस ने 48 घंटे में फर्दाफाश कर उसके प्रेमी को गुजरात से गिरफ्तार कर लिया। हत्या में सहयोगी मृतका के पिता को भी गिरफ्तार कर आरोपी बनाया गया है।

must read : अवैध संबंध : दूसरी महिला पर ‘लट्टू’ हुआ पति, बीवी को देनी पड़ी अपनी जान

उक्त घटना को लेकर लक्ष्मी बाई पति शंकर भील निवासी पिपलिया ने चौकी निसरपुर पर सूचना दी थी कि उसकी लडक़ी रेखा पति स्व. सुरेश भील की किसी ने धारदार हथियार से गला काटकर हत्या कर दी है। थाना कुक्षी में हत्या का केस दर्ज किया गया। एसपी आदित्यप्रताप सिंह ने मामले में एएसपी धार देवेंद्र पाटीदार, एसडीओपी कुक्षी मनोहरसिंह बारिया के मार्गदर्शन में टीम गठित की। थाना प्रभारी कुक्षी कमलसिंह पवार, चौकी प्रभारी निसरपुर उप निरीक्षक राहुल चौहान को विवेचना के निर्देश दिए गए। घटनास्थल सील कर रेखा बाई के शव का पैनल से परीक्षण कराया।

प्रेमिका ने बीवी बनने से किया इनकार तो गुस्से में प्रेमी ने दी ऐसी खौफनाक सजा, गुजरात से पकड़ाया

चार साल पहले हुई पति की मौत

साक्षी प्रमिला पिता स्व. सुरेश, लक्ष्मीपति शंकर, संगीता पिता शंकर भील के कथनों में ज्ञात हुआ कि रेखा के पति की 4 वर्ष पूर्व मृत्यु हो चुकी थी। वह मायके में बच्चों के साथ रह रही थी। मोहल्ले में रहने वाले करण उर्फ करू पिता छगन का एकतरफा प्रेम था। करण उसे पत्नी बनाकर गुजरात ले जाने के लिए दबाव बना रहा था।

must read : मां ने अपने ही प्रेमी को सौंप दी बेटी, फिर हुआ ये...

21 अगस्त को रात्रि जब रेखा पिता के मकान में परिवार के साथ सो रही थी तभी उसकी बेटी प्रमिला ने देखा कि करण घर आया और रेखा के पिता शंकर के साथ मिलकर रेखा बाई के गुजरात जाने से मना करने की बात की। मृतका के पिता शंकर भील के साथ मिलकर करण ने फालिये से रेखा बाई का गला रेत दिया। उसकी मृत्यु हो गई। आरोपी करण हत्या कर गुजरात के मोरबी भाग गया। पुलिस ने उसे मोरबी से गिरफ्तार कर लिया। शंकर पुलिस को गुमराह कर रहा था। उसने सख्ती से पूछताछ करने पर जुर्म स्वीकार किया।