स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

चाबी बनाने के बहाने आलमारी से जेवर उडा देता था बदमाश

Amit S mandloi

Publish: Oct 11, 2019 11:37 AM | Updated: Oct 11, 2019 11:37 AM

Dhar

- पुलिस ने दबोचा जिलाबदर और चोरी करने कुख्यात आरोपी को

धार.
पहले घरों में पहुंचकर बदमाश आलमारियों की चाबी बनाता था। बाद में उसी चाबी से आलमारी में रखे नकदी और जेवर को साफ कर देता था। राजगढ़ पुलिस ने इस शातिर चोर को पकड़ा है।

गुरुवार को पुलिस अधीक्षक आदित्यप्रतापसिंह ने प्रेस वार्ता में जानकारी दी। एसपी, उपपुलिस अधीक्षक देवेंद्र पाटीदार और एसडीओपी ऐश्वर्य शास्त्री के निर्देशन में कुख्यात चोर सतनाम पिता रामा सिकलीगर को पकड़ा है। सतनाम ने 13 अप्रैल १९ केा अशोक पिता बाबूलाल के घर में जब उसकी मां तुलसीबाई अकेली तो ये पहुंचा। इसने अपने आप को चाबी बनाने वाला बताया। तुलसीबाई ने भरोसा करके इसे बुला लिया। बाद में ये सोने के जेवर लगभग ढाई लाख रुपए कीमत का सामान ले उड़ा। जिस पर दसाई पुलिस ने प्र्रकरण दर्ज किया था। आरोपी सतनाम के खिलाफ बदनावर, राजगढ़ में स्थाई वारंट भी है।

राजगढ़ में भी की थी वारदात

सतनाम ने राजगढ़ में भी वारदात को अंजाम दिया था। इसने अरूण कुमार शर्मा के घर चोरी की थी। अरूण ने पुलिस को बताया था कि ३ नवंबर २०१९ को उनके घर चोरी हुई थी। अज्ञात चोर चांदी के सिक्के, नकदी, लेपटाप, कम्प्यूटर सीपीयू, मोबाईल चोरी हो गया है। पुलिस को सूचना मिली थी कि कोई लड़का चांदी के सिक्के बेचने की फिराक में घूम रहा है। जिस पर पुसि ने नाबालिक को पकड़ा। इसने अपने साथियों के नाम रोहन उर्फ मोंटी, कमल लोहार और अजय भील बताए। इन्हें पुसि तलाश कर रही है। इन लोगों ने शर्मा के यहां चोरी की वारदात करना कबूल किया।
इनका रहा सहयोग
आरोपितों को पकडऩे में एसडीओपी सरदारपुर के अलावा राजगढ स्टाफ का सहयोग रहा। थाना प्रभारी लोकेशसिंह भदौरिया, सहायक उप निरीक्षक अब्दुल जाकीर, सहायक उप निरीक्षक विजय मिश्रा, प्रधान आरक्षक दिवाकरसिंह, सैय्यद खान, प्रेमपाल, सिरदार, गुलाब, नंदराम का सहयोग रहा। साथ ही माल बरामदगी में अमझेरा थाना प्रभारी रतनलाल मीणा, उपनिरीक्षक बलवीर यादव का योगदान रहा।