स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

Heavy Rain : टापू बना गांव, राशन-दवाइयों को मोहताज हुए बीमार लोग, नाव से पहुंचे डॉक्टर

Hussain Ali

Publish: Sep 14, 2019 13:50 PM | Updated: Sep 14, 2019 13:50 PM

Dhar

भारी बारिश ने पूरे प्रदेश में कहर ढा रखा है। हालात बेकाबू होते जा रहे हैं।

धार. भारी बारिश ने पूरे प्रदेश में कहर ढा रखा है। हालात बेकाबू होते जा रहे हैं। आहू के पास ग्राम सिंदोड़ा-सिंदोडी जहां आज तक पुल नहीं बन पाया है। ये विधानसभा धार में आता है, 15 साल भाजपा का शासन काल रहा, लेकिन इन लोगों के आने-जाने के लिए पुल आज तक नहीं बन पाया है। वर्तमान में जारी तेज बारिश के चलते सिंदोड़ा-सिंदोड़ी गांव टापू बन चुका है।

must read : सांवरिया सेठ को सवा करोड़ के दान का सच, महिला बोलीं- लोन पर मेरी दुकान, देखे भी नहीं इतने रुपए

गांव के अंदर कई लोग बीमार हो गए हैं, जिन्हें उपचार के लिए धार नहीं ला पा रहे थे। शुक्रवार को डाक्टरों का दल नाव से पहुंचा और बीमारों की जांच कर दवाईयां दी। 7 दिनों से जारी बारिश के चलते ग्रामवासी घरों में कैद हैं, क्योंकि धार तक आने वाले नाले पर पानी बढ़ा हुआ है। इसके कारण विद्यार्थी स्कूल तक नहीं जा पा रहे हैं। वहीं मौसम केकारण कई लोग बीमार हैं, जो दवाइयों को मोहताज हो गए है। जिनके घरों में राशन खत्म हो चुका है वे भी परेशान है।

Heavy Rain : टापू बना गांव, राशन-दवाइयों को मोहताज हुए बीमार लोग, नाव से पहुंचे डॉक्टर

पत्रिका ने सिंदोडी गांव के नाले के कारण आ रही दिक्कतों को लेकर समाचार का प्रकाशन प्रमुखता से किया था। कलेक्टर के आदेश के बाद गांव में होमगार्ड का दल पहुंचा तथा वहां से नाव की सहायता से बीमार लोगों का रेस्क्यू किया गया। नाव से बीमारों को इस पार लाकर उपचार किया गया। वहीं कांग्रेस अध्यक्ष बालमुकुंदसिंह गौतम भी गांव पहुंचे और सरकार की ओर से हर मदद दिलााने का आश्वासन दिया।उन्होंनेे ग्राम सिन्दोड़ी को मुख्य मार्ग से जोडऩे वाली पुलिया बनाने के लिए मुख्यमंत्री से बात कर स्वीकृत कराने का वादा किया।

must read : खतरे के निशान से ऊपर नर्मदा, 886 पर पहुंचा जलस्तर, 890 होते ही 20 गांवों पर डूब का खतरा

प्रभावितों को समझाइश देकर करा रहे गांव खाली

Heavy Rain : टापू बना गांव, राशन-दवाइयों को मोहताज हुए बीमार लोग, नाव से पहुंचे डॉक्टर

सरदार सरोवर से बढते जल सतर को लेकर टीम नर्मदा तटों का लगातार निरीक्षण कर रही है। लोगों को समझाइश भी दे रही है। शुक्रवार को टीम ने गोगांवा में नर्मदा तट पर बसे लोगों को समझाइश देकर घर खाली कराए। क्षेत्र में लगातार रुककर हो रही बारिश से भी नदी-नाले उफान पर हंै। खेतों में पानी भरा नजर आ रहा है। ग्राम गोगांवा में टीम ने शुक्रवार को पांच परिवार के आशियाने खाली कराकर आंगनवाडी केन्द्र में शिफ्ट कर दिए हैं।

must read : रेलवे ट्रैक पर भरा पानी, इंदौर-जोधपुर ट्रेन को नागदा से किया डायवर्ट

नर्मदा के बढ़ते जलस्तर वह मिट्टी के कटाव के कारण मकानों को क्षति पहुंच रही इस नजरिए से दल प्रभारी पन्नालाल पवार ,सहायक सचिव बाबूलाल सोलंकी ,ग्राम के पटवारी व सहायक सचिव मुरार जाट ने नन्नू पिता रामा मानकर , श्याम पिता छगन कहार, मंसाराम पिता किशन कहार, अंबाराम पिता मांगीलाल ,ओम पिता मधु का मकान का सामान खाली कराया गया। यह लोग डूब से बाहर है। बताया कि कोई जनहानि या नुकसान न हो इसे लेकर खाली कराए गए है।