स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

मध्यप्रदेश के बंजारा समाज की मूलभूत अधिकारों के लिए सरकार एवं शासन से मांग की जाएगी

sarvagya purohit

Publish: Aug 19, 2019 11:12 AM | Updated: Aug 19, 2019 11:12 AM

Dhar

मध्यप्रदेश के बंजारा समाज की मूलभूत अधिकारों के लिए सरकार एवं शासन से मांग की जाएगी


-ऑल इंडिया बंजारा सेवा संघ शाखा मध्य प्रदेश द्वारा प्रांतीय अधिवेशन संपन्न
धार.
पूरे देश में करीब 9 करोड़ बंजारा समाज की जनसंख्या है। अलग-अलग राज्यों में इनको अलग-अलग वर्ग में शामिल किया गया है। कहीं पर एससी है तो कहीं पर ओबीसी। समाज को एसटी वर्ग में शामिल किया जाए। इसके अलावा टाटा डेव्लपमेंट कार्पोरेशन भी राज्य में बनाया जाए। यह बात आंध्र प्रदेश के पूर्व मंत्री एवं अखिल भारतीय बंजारा सेवा संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमरसिंह तिलावत ने पत्र परिषद् में कही।
ऑल इंडिया बंजारा सेवा संघ शाखा मध्य प्रदेश द्वारा प्रांतीय अधिवेशन धार नगर की कांति पैलेस गार्डन त्रिमूर्ति चौराहा में संपन्न हुआ।
धार में ऑल इंडिया बंजारा समाज के अधिवेशन में पहुंचे तिलावत ने कहा कि अंग्रेजों ने बंजारा समाज पर ट्राईब क्रिमिनल एक्ट लगाकर कई लोगों पर प्रकरण दर्ज कर यातनाएं दी गई। हमारे ऊपर ट्राईब क्रिमिनल एक्ट लगाया गयाए लेकिन हमें शेड्यूल ट्रायबल में शामिल नहीं किया जा रहा है। देश के अलग.अलग राज्यों में बंजारा समाज को अलग.अलग श्रेणी में रखा गया है। हम सरकार से मांग करते हैं कि बंजारा समाज को एसटी में शामिल करने का प्रस्ताव बनाकर भेजा जाए। हम आदिवासी समाज से ही है।
अधिवेशन की अधिवेशन की शुरुआत बंजारा समाज के संत सेवालाल महाराज एवं पूर्व मुख्यमंत्री वसंतराव नाईक के चित्र पर मुख्य अतिथि द्वारा दीप प्रज्ज्वलन एवं माल्यार्पण किया गया। तत्पश्चात अतिथियों का सम्मान पुष्पा हार द्वारा किया गया स्वागत भाषण में में समाज के अधिकारी राजेश भारती ने समस्त अतिथियों के कार्यक्रम में उपस्थित होने पर आभार प्रकट किया। उन्होंने बताया कि आईबीएसएस द्वारा मध्य प्रदेश में यह पहला प्रांतीय अधिवेशन है। उन्होंने यह भी बताया कि आज समाज को संगठित होने की आवश्यकता है। उन्होंने कर्नाटक, आंध्र प्रदेश महाराष्ट्र, गुजरात से आए हुए मुख्य अतिथियों एवं नेताओं से मध्य प्रदेश को हरसंभव मदद कराने का आह्वान किया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि आंध्र प्रदेश के पूर्व मंत्री एवं अखिल भारतीय बंजारा सेवा संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमरसिंह तिलावत ने अपना उद्बोधन दिया एवं नवनियुक्त कार्यकारिणी को बधाई दी। साथ ही उन्होंने मध्यप्रदेश के बंजारा समाज की मूलभूत अधिकारों के लिए सरकार एवं शासन से मांग की जाएगी। उन्होंने नवयुग नवनियुक्त कार्यकारिणी को समाज एवं संगठन के लिए हर समय काम करने के का निर्देश दिया। उन्होंने समाज की संस्कृति को बचाने के लिए आह्वान किया। कार्यक्रम में अतिथि बालाजी नायक, डी रामा नायक, सुनील खन्ना, एसपी लबाना, जितेंद्र बंजारा, अमर सिंह, नाराजी डॉक्टर रंजीत बंजारा एवं गगनदीप बब्बर आदि ने संबोधित किया। कार्यक्रम में नीता पंवार द्वारा गोर बंजारा संस्कृति पर सांस्कृतिक प्रस्तुति दी गई एवं मध्य प्रदेश पुलिस के मोतीलाल दायमा जो कि मिस्टर एमपी रह चुके उनका सम्मान किया गया। साथ ही अन्य प्रतिभाओं जिन्होंने शिक्षा एवं व्यापारिक जगत में नाम रोशन किया उनका सम्मान किया गया। कार्यक्रम में नव नृत्य प्रदेश अध्यक्ष पूजासिंह नायक धार इनके द्वारा आए हुए अतिथियों का आभार प्रकट किया गया एवं जो मध्य प्रदेश से अन्य जिलों से जितने लोग आए थे उनका भी स्वागत किया गया। मंच संचालन ललित पंवार ने किया। कार्यक्रम में महासचिव प्रदीप मनावत, प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष बबलू राठौर एवं श्रवणसिंह राठौर, महिला प्रदेश अध्यक्ष जमुना एवं माया राठौड़ उपाध्यक्ष मनोहर पवार, प्रकाश नायक, दौलत पटेल मौजूद थे।