स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

मैदान में कीचड़ से परेशान थे बच्चे, अब खिलखिलाएंगे

Shyam Kumar Awasthi

Publish: Nov 22, 2019 00:44 AM | Updated: Nov 22, 2019 00:44 AM

Dhar

पत्रिका खबर के बाद विधायक की पहल पर होले लगा सुधार

मनावर. क्षेत्र की शैक्षणिक संस्थाओं के भवनों की जर्जर हालातों एवं सर्व शिक्षा अभियान अंतर्गत अपूर्ण निर्मित शाला भवनों के मामले में जिला व स्थानीय स्कूली विभाग पत्रिका के पड़ताल के बाद प्रकाशित समाचारों को लेकर सक्रिय हुआ है। स्कूलों के इन हालातों को लेकर क्षेत्रीय विधायक डॉ. हीरालाल अलावा द्वारा प्रकाशित समाचारों को संज्ञान में लेने के बाद कलेक्टर से चर्चा कर इन बेदम भवनों को लेकर नाराजगी जताते हुए नवीन भवनों के निर्माण की मांग की।
इस मामले में कलेक्टर ने जिला परियोजना समन्वयक कमल सिंह ठाकुर को तत्काल मौके पर निरीक्षण कर अपडेट मागा गया। ठाकुर 20 नवंबर की रात्रि 8 .30 बजे ग्राम चिकली के इमलीपुरा व पटेलपुरा के स्कूल भवनों का टॉर्च की रोशनी में निरीक्षण कर भवनों के फोटो खींच कर कलेक्टर को व्हाट्सऐप किए। एडीपीसी कमल ठाकुर ने इस मामले में बीआरसी को निर्देश दिए कि खतरनाक भवन में बच्चों को बैठना बंद कराया जाए व इमलीपुरा स्थित आंगनवाड़ी भवन में बच्चों को अन्य कोई व्यवस्था नहीं होने तक बैठने के आदेश दिए गए। वर्ष 2009 से सर्व शिक्षा अभियान अंतर्गत निर्माण एजेंसी ग्राम पंचायत चिखली द्वारा अपूर्ण अतिरिक्त कक्ष को निर्माणाधीन छोड़ दिया था।

सात वर्षों से नहीं हो रही थी सुनवाई

उक्त मामले में सरपंच सचिव ग्राम पंचायत चिखली के विरुद्ध स्कूली शिक्षा विभाग के तकनीकी विभाग द्वारा जांच कर अधिक निकाली गई राशि की वसूली करने के लिए एसडीएम मनावर के कार्यालय में प्रकरण पेश किया था। लेकिन बाद में राज्य शासन के आदेश पर पंचायतों के ऐसे सभी तमाम प्रकरण जिला पंचायतों को सौंपने के आदेश दिए गए थे। तभी से जिला पंचायतों में इन वसूली प्रकरणों की सुनवाई पिछले 7 वर्षों दबी पड़ी है। जिला पंचायत के बाबू राज के चलते इन प्रकरणों पर अभी तक कोई सुनवाई नहीं की जा रही है। डीपीसी ठाकुर ने स्थानीय बीआरसी व तकनीकी एजेंसी को अपूर्ण अतिरिक्त कक्ष को पूर्ण करने के निर्देश दिए। गुरुवार को अधूरे अतिरिक्त कक्ष के फर्श के निर्माण का कार्य प्रारंभ कर दिया। भवन में मुरूम भरकर फर्श बेस फिलिंग का कार्य शुरू किया गया। इसके साथ ही पटेलपुरा स्थित प्राथमिक शाला भवन के सामने कीचड़ पर भी मुरम डाली गई। बीआरसी अजय मुवेल ने बताया कि पुराने भवन को शीघ्र ही डिस्मेंटल करने की कार्रवाई की जाएगी तथा अन्य अपूर्ण भवनों को लेकर भी कार्रवाई की जा रही है।

[MORE_ADVERTISE1]