स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

Breaking : अमावस्या पर ओंकारेश्वर आ रहे गुजरात के परिवार की कार डंपर में घुसी, दो की दर्दनाक मौत, देखें VIDEO

Hussain Ali

Publish: Nov 25, 2019 13:38 PM | Updated: Nov 25, 2019 13:38 PM

Dhar

  • धार के पास हाईवे पर सुबह 11 बजे के करीब हुआ हादसा
  • अमावस्या पर ओंकारेश्वर स्नान के लिए जा रहे थे

धार. शहर के पास इंदौर-अहमदाबाद फोरलेन नेशनल हाईवे पर सोमवार सुबह बड़ा हादसा हो गया। गुजरात से मध्यप्रदेश के तीर्थों के दर्शन के लिए निकला परिवार दुर्घटना का शिकार हो गया। उनकी गाड़ी खड़े डंपर में जा घुसी। हादसे में दो लोगों की दर्दनाक मौत हो गई, जबकि तीन लोग गंभीर रूप से घायल है। इन्हें इंदौर रैफर किया गया है।

must read : मरे हुए व्यक्ति को दोबारा अस्पताल लेकर आई पुलिस, परिजन घर ले गए थे शव

[MORE_ADVERTISE1]
[MORE_ADVERTISE2]

प्राप्त जानकारी के अनुसार वडोदरा में रहने वाला पटेल परिवार मध्यप्रदेश के ओंकारेश्वर, महाकाल सहित अन्य तीर्थों के दर्शन के लिए ह्ुंडई क्रेटा कार से सोमवार सुबह 5 बजे निकला था। सुबह करीब ११ बजे धार हाइवे पर उनकी कार सडक़ पर खड़े एक डंपर में तेज रफ्तार से जा घुसी।

must read : दर्द से कराहते मूक-बधिर बच्चे का शरीर अकड़ा, जांच की तो निकला 'टीटनेस', मचा हड़कंप

[MORE_ADVERTISE3]Breaking : अमावस्या पर ओंकारेश्वर आ रहे गुजरात के परिवार की कार डंपर में घुसी, दो की दर्दनाक मौत, देखें VIDEO

हादसे के बाद परिवार कार में फंस गया। मौके पर चीख-पुकार मच गई। लोगों ने देखा तो मदद के लिए दौड़े। कार में जैसे-तैसे पूरे परिवार को निकाला। नौगांव पुलिस को सूचना दी गई, जिसके बाद जवान मौके पर पहुंचे। पुलिस ने क्रेन से चार पहिया वाहन को डंपर से अलग किया। हादसे में कार के परखच्चे उड़ गए थे।

Breaking : अमावस्या पर ओंकारेश्वर आ रहे गुजरात के परिवार की कार डंपर में घुसी, दो की दर्दनाक मौत, देखें VIDEO

ओंकारेश्वर के बाद महाकाल जाने वाले थे

कार में प्रवीण पटेल, अमीषा पटेल, सुमित्रा पटेल, दीपक भाई और वर्षा पटेल मौजूद थे। इनमें से प्रवीण पटेल और सुमित्रा पटेल की ज्यादा चोट लगने से मौत हो गई। जिला अस्पताल में डॉक्टरों ने इसकी पुष्टि की है। तीन अन्य गंभीर घायलों को बेहतर इलाज के लिए इंदौर रैफर किया गया है। बताया जा रहा है परिवार अमावस्या के स्नान के लिए ओंकारेश्वर जा रहा था। वहां से उनकी प्लानिंग महाकाल में दर्शन करने की थी, लेकिन नियति को कुछ और ही मंजूर था। ओंकारेश्वर पहुंचने से पहले हादसा हो गया।