स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

किसान के घर से मिली ३३० लीटर नकली कीटनाशक दवाईयां

sarvagya purohit

Publish: Aug 23, 2019 11:35 AM | Updated: Aug 23, 2019 11:35 AM

Dhar

किसान के घर से मिली ३३० लीटर नकली कीटनाशक दवाईयां


-सूचना मिलने के बाद विभाग ने की कार्रवाई
धार.
एक किसान द्वारा नकली कीटनाशक दवाईयों बेचने की सूचना कृषि विभाग को मिली थी। वहीं कृषि विभाग की एक टीम ने किसान के यहां पर पड़ताल करने पहुंचे यहां पर नकली कीटनाशक दवाईयां बड़ी मात्रा में पकड़ी। किसान कंपनी के नाम से डूप्लीकेट दवाईयों को बेच रहा था।
गुरुवार को कृषि विभाग के सहायक संचालक डीएस मोर्य ग्राम हातोद में किसान देवीलाल पाटीदार के यहां से ३३० लीटर की नकली कीटनाशक दवाईयों को जब्त किया। बताया जा रहा है कि विभाग को पूर्व में किसी ने नकली कीटनाशक दवाईयों की सूचना दी थी। इसके बाद विभाग के उपसंचालक आरएल जमारे ने एक टीम गठित की। टीम में मुख्य रुप से सहायक संचालक डीएम मोर्य, आरके पांडे और जिला निरीक्षण राजेश बर्मन थे। ये तीनों किसान बनकर देवीलाल पाटीदार के यहां पर पहुंचे और यहां से कीटनाशक दवाईयों को खरीदा। खरीदी हुई दवाईयों की जब जांच की तो पूरा मामला सामने आया।
गुजरात और दिल्ली से आता था माल
सहायक संचालक मोर्य ने बताया कि किसान देवीलाल पाटीदार के पास गुजरात और दिल्ली से नकली कीटनाशक दवाईयां आती थी, जिसे वह कम कीमत पर वह किसानों को बेचता था। किसान देवीलाल अपने घर से ही इन दवाईयों का क्रय-विक्रय करता था और उसने किसी भी तरह से कोई दुकान के लिए पंजीयन भी नहीं करवाया था न ही उसके पास किसी भी तरह का विभाग द्वारा लायसेंस मिला है। बताया जा रहा है कि जिले में विभाग की टीम नकली कीटनाशक दवाईयों को पकडऩे के लिए घूम रही है। इसी तरह की आगे भी कार्रवाई की योजना भी बनाई जा रहा है।