स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

108 कुंडीय गायत्री महायज्ञ के अंतिम दिन दांपत्य सूत्र में बंधे जोड़े

Deepak Sahu

Publish: Feb 04, 2019 14:46 PM | Updated: Feb 04, 2019 14:46 PM

Dhamtari

जोड़े दांपत्य सूत्र में बंधे।

धमतरी. छत्तीसगढ़ के धमतरी जिले में अखिल भारतीय गायत्री परिवार की ओर से स्थानीय हरदिया साहू समाज भवन में आयोजित 108 कुंडीय गायत्री महायज्ञ और विराट नारी सम्मेलन के अंतिम दिन सोमवार को सुबह 7:00 बजे कराया गया।

इसके बाद ब्रह्म वादिनी बहन सुधा महाजन ने करीब 7000 साधकों को गायत्री महामंत्र के साथ शादी गीत गाकर दोपहर बाद आदर्श विवाह का आयोजन किया गया। जिसमें धमतरी कनेरी के जोड़े दांपत्य सूत्र में बंधे।

 

हुए विभिन्न संस्कार
आयोजन के तीसरे दिन रोज की तरह सुबह ६ बजे से ७.३० बजे तक सामूहिक जाप, प्रज्ञायोग व्यायाम हुआ। ८ बजे से दोपहर १ बजे तक विश्व शांति और सामाजिक बुराईयों को दूर करने के लिए गायत्री महायज्ञ में आहुतियां डाली गई। इसके बाद ब्रह्मवादिनी बहनों ने १५० बच्चों का विद्यारंभ संस्कार, २२ लोगो का मुंडन संस्कार कराया। इसके अलावा ३ बच्चों का अन्नप्रासन्न संस्कार, ९ महिलाओं का पुंसवन संस्कार कराया गया। सभी महिलाओं ने वैदिक विधि के अनुसार अपने जीवन में सात्विकता का अपनाने का संकल्प भी दोहराया।