स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

श्रावणी मेला 2019: 108 किमी पैदल यात्रा कर, रोज 1 लाख कांवड़िए पहुंचेंगे बैद्यनाथ धाम

Prateek Saini

Publish: Jul 17, 2019 07:00 AM | Updated: Jul 16, 2019 23:47 PM

Deoghar

Shravani Mela 2019: बाबा बैद्यनाथधाम मंदिर ( Baba Baidyanath Dham Deoghar ) में कावड़ियों के लिए विशेष व्यवस्था ( Arrangement Status ) की गई है। यहां देखें श्रावणी मेले की हर ( Shravani Mela News ) जानाकारी।

(रांची,रवि सिन्हा): सावन मास के शुरूआत के साथ ही आज से देवघर में विश्व प्रसिद्ध श्रावणी मेला ( shravani mela 2019 ) शुरू हो जाएगा। लाखों की संख्या में श्रद्धालु बिहार के सुल्तानगंज से गंगाजल लेकर करीब 108 किमी की पैदल यात्रा कर बाबा बैद्यनाथधाम ( Baba Baidyanath Dham Deoghar ) मंदिर पहुंचेंगे। एक महिने तक पूरा सुल्तानगंज से देवघर तक का इलाका भगवान भोलेनाथ के भक्तों से आबाद रहने वाला है।

 

सीएम करेंगे उद्घाटन

 

Shravani Mela 2019

मुख्यमंत्री रघुवर दास ( jharkhand cm ) आज सुबह दस बजे झारखंड के कांवरिया प्रवेश द्वार दुम्मा में इस मेले का उदघाटन करेंगे। वहीं मंगलवार को गुरू पूर्णिमा के अवसर पर बड़ी संख्या में श्रद्धालु बाबाधाम पहुंचे।

हर रोज एक व सोमवारी को डेढ़ लाख कांवडिएं करते हैं जलाभिषेक

Shravani Mela 2019

एक महीने तक चलने वाले इस श्रावणी मेले की सभी आवश्यक तैयारियां पूरी कर ली गयी है। मेले में प्रतिदिन करीब एक लाख कांवडियों द्वारा बाबा भोलेनाथ पर जलाभिषेक किया जाता है, वहीं सोमवारी को यह संख्या डेढ़ से दो लाख तक पहुंच जाती है।

 

सुरक्षा की पुख़्ता व्यवस्था

श्रद्धालुओं की भारी भीड़ को देखते हुए सात हजार पुलिस कर्मियों की प्रतिनियुक्ति की गयी है, जबकि मेले के दौरान विधि व्यवस्था और यातायात व्यवस्था को बनाए रखने के लिए राज्य के विभिन्न जिलों से कार्यपालक दंडाधिकारियों और पुलिस उपाधीक्षक स्तर के अधिकारियों की प्रतिनियुक्त मेले तक देवघर में की गई है।


देवघर ( Deoghar ) जिले के उपायुक्त राहुल सिंह ने बताया है कि श्रावणी मेले ( Shravani Mela 2019 ) में आने वाले सभी भक्तों को प्रशासन इस बार भी बेहतर सुविधाएं उपलब्ध कराएगा। जिले के अंतर्गत पड़ने वाले कांवरिया पथ पर महीन बालू बिछाया गया है। जगह-जगह पेयजल और शौचालय की व्यवस्था की गई है। बाबाधाम के सरोवर शिव गंगा तट पर क्लॉक रूम की भी व्यवस्था की गई है,जहां श्रद्धालु अपने सामान को रखकर मंदिर में पूजा अर्चना के लिए जा पाएंगे। मुख्य मंदिर में इस बार भी अरघा द्वारा ही जलार्पण की व्यवस्था की गई है। इस दौरान स्पर्श दर्शन पर रोक लगा दी गयी है।


इधर, देवघर श्रावणी मेला शुरू होने से पूर्व ही जिले के पुलिस अधीक्षक ने मेले के कार्य में लापरवाही बरतने के मामले में आठ एएसआई और 67 पुलिस कर्मियों को सोमवार को निलंबित कर दिया है। कार्यस्थल से गायब पुलिसकर्मियों के खिलाफ सार्जेंट मेजर ने एसपी नरेंद्र सिंह को इसकी रिपोर्ट की थी।

झारखंड की ताजा ख़बरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें...

यह भी पढ़े:Kanwar Yatra 2019: इन मुस्लिम परिवारों के लिए नहीं धर्म की दीवार, शिवभक्तों के लिए बना रहे हैं कांवड़, देखें वीडियो