स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

गोड्डा लोकसभा सीट से झाविमो प्रत्याशी प्रदीप यादव पर पार्टी प्रवक्ता ने लगाया यौन शोषण का आरोप, छानबीन शुरू

Prateek Saini

Publish: May 04, 2019 22:27 PM | Updated: May 04, 2019 22:27 PM

Deoghar

यौन उत्पीड़न मामले पुलिस ने छानबीन शुरू की, होटल का कमरा सील...

(देवघर): झारखंड विकास मोर्चा के गोड्डा लोकसभा सीट के प्रत्याशी और विधायक प्रदीप यादव पर यौन उत्पीड़न आरोप मामले में पुलिस ने छानबीन शुरू कर दी है। झाविमो नेता पर पार्टी की एक महिला नेत्री ने यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया है। शुक्रवार देर रात पार्टी नेत्री की शिकायत के बाद पुलिस आज जांच के लिए होटल पहुंची और होटल के कर्मचारियों से पूछताछ के साथ ही होटल के कमरे को सील कर दिया गया है। वरीय पुलिस अधिकारी ने जांच के लिए एसआईटी गठित करने का भी संकेत दिया है। उधर, महागठबंधन के नेताओं ने इस कांड को भाजपा की साजिश करार देते हुए कहा कि झाविमो प्रत्याशी को फंसाने की कोषिष की जा रही है।

गोड्डा लोकसभा सीट के महागठबंधन प्रत्याशी और विधायक प्रदीप यादव पर उन्ही की पार्टी की प्रदेश प्रवक्ता ने यौन शोषण का आरोप लगाते हुए महिला थाना देवघर मे मामला दर्ज करवाया है। इसके बाद पुलिस हरकत में आ गई है। शनिवार कोआज एसडीपीओ विकास चंद्र श्रीवास्तव के नेतृत्व में साइबर डीएसपी और पुलिस बलों के साथ घटनास्थल होटल में जांच के लिए पहुंची। इस दौरान होटल के सभी कर्मचारियों से पूछताछ की गई। वहीं होटल मालिक को सीसीटीवी के फुटेज भी उपलब्ध कराने का निर्देश दिया गया है। लेकिन होटल कर्मचारियों का कहना है कि सीसीटीवी 2 महीनों से खराब है। ऐसे में पुलिस ने डीवीआर बॉक्स को जब्त कर थाने ले गई और मामले का अनुसंधान कर रही है।

वहीं दूसरी तरफ महागठबंधन के नेताओं ने एसपी ऑफिस जाकर एसपी को ज्ञापन सौंपा। महागठबंधन के नेताओं में झारखंड मुक्ति मोर्चा के पूर्व मंत्री हाजी हुसैन अंसारी , राजद के पूर्व मंत्री सुरेश पासवान सहित जिला अध्यक्ष और दर्जनों महिला पुरुष कार्यकर्ता एसपी से मिले और ज्ञापन सौंपा। हाजी हुसैन अंसारी ने कहा कि मामले को राजनीति रंग दिया जा रहा है और षड्यंत्र के तहत महागठबंधन के नेता प्रदीप यादव को फंसाने की साजिश रची जा रही है। इसकी निष्पक्ष जांच होनी चाहिए जबकि पूर्व मंत्री सुरेश पासवान ने कहा कि घटना 13 दिन पहले घटी तो आरोपी ने ऐन चुनाव के मौके पर शिकायत क्यों दर्ज कराई। एसपी नरेंद्र कुमार सिंह का कहना है कि इस प्रकरण के सभी बिंदुओं पर जांच की जा रही है और इसमें जांच एजेंसी और फॉरेंसिक जांच का भी सहारा लिया जाएगा और तथ्य को खंगालने के बाद ही निष्कर्ष पर पहुंच कर कार्रवाई की जाएगी।

इधर, प्रदीप यादव ने अपने उपर लगे सभी आरोपों का खंडन किया और आरोप लगाने वाली महिला के बारे में एक फोटो दिखाते हुए कहा कि मुकेश पाठक भाजपा प्रत्याशी निशिकान्त दूबे का चुनाव एजेंट है और उसके साथ आरोप लगाने वाली महिला भी खड़ी है।

दूसरी तरफ भाजपा प्रत्याशी निषिकांत दूबे ने कहा कि मुकेश पाठक एक वकील है। भाजपा का सभी केस लड़ता है और वही जसीडीह मंडल का अध्यक्ष भी है। उन्होंने कहा कि घटना का सभी सीसीटीवी फुटेज है। प्रदीप यादव कब होटल में गए हैं और कमरे में क्या-क्या बातें हुई है वो सभी रिकॉर्ड है। भाजपा का एक-एक कार्यकर्ता महिलाओं का सम्मान करना जानती है।