स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

महिलाओं ने लाठियां लहराकर किया विरोध-प्रदर्शन

Rajendra Kumar Jain

Publish: Nov 19, 2019 19:36 PM | Updated: Nov 19, 2019 19:36 PM

Dausa

पीपलखेड़ा को नई पंचायत बनवाने का मामला : Protest

खेड़ला. महुवा उपखण्ड के पीपलखेड़ा गांव को ग्राम पंचायत का दर्जा दिलाने एवं बैजूपाड़ा पंचायत समिति में जोडऩे के विरोध में मंगलवार को भी तीसरे दिन भी धरना प्रदर्शन जारी रहा और महिलाओं ने हथियार लहराकर विरोध प्रदर्शन किया। protest


इस दौरान बड़ी संख्या में महिलाओं ने हाथों में हथियार में लेकर सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर विरोध प्रदर्शन किया। महिलाओं ने सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि हमारे बच्चों के भविष्य के लिए महिला बच्चे और पुरुष शीघ्र ही राष्ट्रीय राजमार्ग को जाम करेंगे। Protest


गौरतलब है कि पीपलखेड़ा को नई ग्राम पंचायत घोषित कराने के लिए ग्रामीण 3 दिन से ग्रामीण धरना प्रदर्शन कर रहे हैं। पूर्व पंचायत समिति सदस्य रामकिशन गुर्जर ने बताया कि उनका गांव सरकार के सभी मापदंडों को पूरा करता है और वार्डवाइज के पुनर्सीमांकन के लिए निर्वाचन आयोजित ने आदेश भी दे दिए थे, लेकिन राजनीतिक द्वेषता के चलते गजट नोटिफिकेशन में गांव नई पंचायत नहीं बनाया गया है। वर्तमान में यह गांव ग्राम पंचायत गगवाना में है। सरकार ने उनकी ग्राम पंचायत को नवगठित पंचायत समिति बैजूपाड़ा में जोड़ कर अन्याय किया है। जिसे बर्दास्त नहीं किया जा सकता। इसलिए आंदोलन किया जा रहा है जो शीघ्र उनकी मांग नहीं मानी तो राष्ट्रीय राजमार्ग जाम में तब्दील हो सकता है। Protest


इस दौरान पूर्व सरपंच पूरणसिंह, सूबेदार धर्मसिंह, सहीराम फौजी, गोविंदसहाय पोसवाल, विजयपाल गुर्जर, दातार सिंह राजपूत, अजय गौड़, धारासिंह, देवा गुर्जर, बनवारी ठेकेदार, भीम सिंह डीलर सहित सैकड़ों ग्रामीण महिला मौजूद थे। Protest


कानून व्यवस्था का पत्र भेजा
पीपलखेड़ा में ग्राम पंचायत बनवाने की मांग को लेकर चल रहे धरना प्रदर्शन को लेकर उपखंड अधिकारी महुआ ने जिला कलक्टर दौसा को पत्र भेज कर क्षेत्र में गंभीर कानून व्यवस्था की स्थिति के बारे में अवगत कराया है। पत्र में बताया गया है कि शीघ्र इस समस्या का समाधान नहीं किया गया तो क्षेत्र में गंभीर कानून व्यवस्था खराब हो सकती है। गौरतलब है कि ग्रामीणों ने 3 दिन पूर्व उपखण्ड अधिकारी को राष्ट्रीय राजमार्ग जाम करने की चेतावनी भरा पत्र दिया था। Protest

[MORE_ADVERTISE1]