स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

काव्य रचनाओं को खूब सराहा

Gaurav Kumar Khandelwal

Publish: Oct 07, 2019 08:05 AM | Updated: Oct 07, 2019 08:05 AM

Dausa

Well appreciated poetic works in dausa: बाहर से आए कवियों ने एक से बढ़कर एक प्रस्तुति दी

दौसा. राज्य सरकार की अमृता हाट के अंतर्गत कलक्ट्रेट चौराहा स्थित ग्रामीण हाट में कवि सम्मेलन का आयोजन हुआ। इसमें बाहर से आए कवियों ने एक से बढ़कर एक प्रस्तुति दी। श्रोताओं ने रचनाओं को खूब सराहा। मुख्य अतिथि महिला अधिकारिता एवं बाल विकास विभाग मंत्री ममता भूपेश ने गांधीजी के चित्र के समक्ष दीप जलाकर सम्मेलन की शुरुआत की। कवियों का सम्मान किया गया। भूपेश ने बेटियों को बचाने व पढ़ाने का आह्वान किया।

Well appreciated poetic works in dausa

कवि प्रवीण शुक्ल, पवन आगरी, डॉ. राजीव राज, हेमन्त कुमावत, हेमन्त पांडे, सपना सोनी आदि ने विभिन्न रस की कविता प्रस्तुत कर तालियां बटोरी। संचालन महेश आचार्य ने किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता पुलिस अधीक्षक प्रहलाद कृष्णिया ने की। संयोजक महिला अधिकारिता के सहायक निदेशक जुगल किशोर मीणा तथा जिला उद्योग केंद्र की महाप्रबंधक शिल्पा गोखरू ने आभार जताया। हालांकि रात दस बजे माइक बंद होने से श्रोता अधिक देर तक आनंद नहीं ले सके।

Well appreciated poetic works in dausa

बचपन संवारो, देश बचाओ मुहिम पर चर्चा


दौसा. आरपीएससी शिक्षक फोरम जिला कार्यकारिणी की बैठक जिला संयोजक कैलाश शर्मा की अध्यक्षता में हुई। इसमें अनाथ बालिकाओं को लाभान्वित कर उन्हें शिक्षण के प्रति जागृत करने के लिए फोरम की बचपन संवारो, देश बचाओ मुहिम की समीक्षा की गई।
जिलाध्यक्ष प्रहलाद फाटक्या ने बताया कि दौसा ब्लॉक के राजकीय विद्यालयों में अध्ययनरत कक्षा 1 से 8 तक की बालिकाओं की जानकारियां निर्धारित प्रपत्र में उपलब्ध कराने के लिए संस्था प्रधानों से आग्रह किया है।

जिला प्रवक्ता अभय सक्सैना ने बताया कि प्रपत्र का प्रोफॉर्मा फोरम की बेबसाइट पर उपलब्ध है। वहीं ब्लॉक शिक्षा अधिकारी दौसा के व्हाट्सएप ग्रुप पर भी जारी किया गया। बैठक में जिला मंत्री घनश्याम चौबदार ने कहा कि सभी पदाधिकारी अपने परिक्षेत्र में अध्ययनरत अनाथ बालिकाओं के बारे में स्वयं भी जानकारी करें और बालिका के आवश्यक रिकॉर्ड संधारित रखें।बैठक में अवधेश तिवाड़ी, कमल बिगास, जितेंद्र सैनी, कालूराम मालपुरिया, राजेंद्र सिंह, प्रेमप्रकाश उमरवाल, दरब सिंह, सुरेश सैनी, अनिल मीना, महेंद्र जीरोता, सचिन शर्मा, एनआर बालोत, परमानंद शर्मा, जयसिंह गुर्जर, कमलेश शर्मा आदि पदाधिकारियों ने विचार व्यक्त किए।