स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

रुपयों को लेकर हुआ था विवाद, खलासी ने ही की थी चालक की हत्या

Mahesh Jain

Publish: Oct 09, 2019 19:56 PM | Updated: Oct 09, 2019 19:56 PM

Dausa

मानपुर थाना पुलिस ने किया खुलासा, गोवर्धन से आरोपी को किया गिरफ्तार

दौसा. मानपुर. There was a dispute over money, Khalasi had murdered the driverस्थानीय थाना पुलिस ने सीकरी मोड़ पर दो दिन पहले हुई ट्रेलर चालक की हत्या के मामले का खुलासा कर दिया। पुलिस ने चालक रामखिलाड़ी गुर्जर की हत्या के आरोपी ट्रेलर के खलासी पालेन्द्र उर्फ पालू पहलवान को गोवर्धन से गिरफ्तार कर लिया।

थाना प्रभारी सुरेश कुमार ने बताया कि आरोपी पालू पहलवान व चालक रामखिलाड़ी गुर्जर दोनों ट्रेलर में 5 अक्टूबर शाम को भरतपुर से अजमेर के लिए रवाना हुए थे। चालक को ट्रेलर मालिक ने 30 हजार रुपए रास्ते मे खर्चे के लिए दिए थे। चालक व खलासी दोनों में शराब पीने के बाद रुपयों को लेकर विवाद हो गया। खाना खाने के लिए चालक ने ट्रेलर को बालाजी मोड़ स्थित एक होटल पर रोक दिया। जहां पर चालक ने तो खाना खा लिया, लेकिन खलासी ने नहीं खाया। इसके बाद आगे चल दिए।

राष्ट्रीय राजमार्ग सीकरी मोड़ के समीप दोनों में रुपए को लेकर छिना-झपटी हुई। इस दौरान खलासी ने चालक को घुसा मार दिया तो वह अचेत हो गया। बाद में रुमाल से गला दबाकर खलासी ने चालक को मौत के घाट उतार दिया। चालक के पास रखे रुपए व दस्तावेज लेकर खलासी मौके से फरार हो गया।


घटना को लेकर थाना प्रभारी के नेतृत्व में टीम बनाकर मामले की गहनता से जांच कर खुलासा किया गया। बुधवार को पुलिस ने आरोपी को सिकराय न्यायालय में पेश किया। जहां से न्यायिक मजिस्ट्रेट ने 11 अक्टूबर तक पुलिस रिमांड पर सौंप दिया। गौरतलब है कि रविवार शाम को राष्ट्रीय राजमार्ग पर सीकरी मोड़ पर एक ट्रेलर में शव मिलने से क्षेत्र में सनसनी फैल गई थी। पुलिस ने ट्रेलर को कब्जे में लेकर मौके पर एफएसएल टीम बुलाकर घटना से साक्ष्य जुटाए थे।

कार से सामान चोरी के आरोप में युवक गिरफ्तार
दौसा. जिला मुख्यालय के गुप्तेश्वर रोड स्थित एक मैरिज गार्डन के बाहर खड़ी फोटोग्राफर की कार से सामान चोरी करने के मामले का कोतवाली थाना पुलिस ने बुधवार को खुलासा करते हुए मानगंज निवासी प्रतीक खण्डेलवाल को गिरफ्तार किया।

कोतवाली थाना प्रभारी श्रीराम मीना ने बताया कि 6 अक्टूबर की रात को जयपुर के वैशाली नगर स्थित गुलाब बिहार गांधी पथ निवासी विष्णुदयाल गुप्ता ने रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि वह डांडिया कार्यक्रम में फोटोग्राफी करने आया था। किसी ने उनकी कार का शीशा तोड़ कर कैमरा, स्टैण्ड आदि चुरा लिया। कोतवाली थाना प्रभारी श्रीराम मीना के नेतृत्व में गठित टीम ने जांच करते हुए दौसा के मानगंज निवासी प्रतीक उर्फ कान्हा उर्फ कान्हा पुत्र रामकिशन खण्डेलवाल को हिरासत में लेकर पूछताछ की तो उसने कार का शीशा तोड़ कर कुछ सामान चुराना स्वीकार लिया।


हालांकि आरोपी ने कार से कैमरा चोरी करने की बात को नहीं स्वीकारा। पुलिस ने बताया कि आरोपी से कड़ी पूछताछ की जा रही है। कैमरा चोरी की बात संदेहस्पद लग रही है। पुलिस टीम में हैडकांस्टेबल हरलाल, मीठालाल, शिवचरण व घनश्याम शामिल हैं।

रुपयों को लेकर हुआ था विवाद, खलासी ने ही की थी चालक की हत्या