स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

पत्नी की हत्या के आरोपी को भेजा जेल, पुलिस से बोला गुस्से में था इसलिए कर दी हत्या

Mahesh Jain

Publish: Sep 19, 2019 17:51 PM | Updated: Sep 19, 2019 17:51 PM

Dausa

दौसा कोर्ट में हत्याकाण्ड

दौसा. न्यायालय परिसर में 18 सितम्बर दोपहर 12 बजे खंजर घौंप कर पत्नी की हत्या करने वाले आरोपी अमरचंद शर्मा को गुरुवार को कोतवाली थाना पुलिस ने सीजेएम न्यायालय दौसा में पेश किया, जिसको न्यायाधीश ने 30 सितम्बर तक जेल भेजने के आदेश दिए हैं।

कोतवाली थाना प्रभारी राजेन्द्र शर्मा ने बताया कि अलवर जिले के खैरथल थाना हरसोली निवासी महिला शीला शर्मा(62)को न्यायालय परिसर में खंजर घौंप कर हत्या करने वाले आरोपी अमरचंद शर्मा ने पुलिस पूछताछ में बताया कि उसकी पत्नी व साले ने उसकी मूकबधिर बेटी कचरी उर्फ दुबई को पांच वर्ष पहले किसी को बेच दिया था। जिस मामले का न्यायालय में केस भी कर दिया था।


उसके बाद जब उसके बेटे की सड़क दुघर्टना में मौत हो गई थी तो उसके दुघर्टना क्लेम की रकम भी वे ले गए। आरोपी ने पुलिस को बताया कि पिछले दिनों वह हरसौली में पत्नी व ससुराल वालों से मिलने गया तब उसको वहां से फटकार कर भगा दिया था। इसलिए वह गुस्से में था और उसने यह सब कुछ कर दिया।


पुलिस ने बताया कि मृतका के भाई की टीटी उर्फ टेकचंद शर्मा की रिपोर्ट पर आरोपी अमरचंद शर्मा को कोतवाली थाना पुलिस ने गिरफ्तार कर गुरुवार को सीजेएम न्यायालय में पेश किया, जिसको न्यायाधीश ने 30 सितम्बर तक न्यायालय में भेजने के आदेश दे दिए हैं।


अभी भी लग रहे हैं खून के धब्बे
न्यायालय परिसर में जिस स्थान पर महिला को पति ने खंजर घौंप कर मौत के घाट उतारा था उस स्थान पर दूसरे दिन गुरुवार को भी खून के धब्बे जमे हुए थे। एससी/एसटी कोर्ट के पूर्व स्पेशल अभियोजक गोपाल लाल शर्मा ने बताया कि बुधवार को जिस प्रकार महिला की हत्या हुई उसका खौफ अभी भी बना हुआ है। बार-बार वह दृश्य याद आ रहा था। जहां पर महिला को खंजर घौंपा और उसका खून बहा।

पुलिस जांच का इंतजार
जिला बार अध्यक्ष अवधेश शर्मा ने बताया कि जिस पुलिसकर्मी ने एक अधिवक्ता के साथ अभद्रता की उसको पुलिस अधीक्षक ने लाइन हाजिर तो कर दिया, लेकिन अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अनिल सिंह चौहान को जांच सौंपी है। वकीलों को जांच आने का इंतजार है।

26 सितम्बर दी है फैसले की तारीख
बेटी को बेचने के आरोप में फंसी महिला शीला की उसके पति ने 18 सितम्बर को एससी/ एसटी कोर्ट द्वारा फैसला सुनाने से पहले ही मौत के घाट उतार दिया था, लेकिन अब इस मामले में एससी/ एसटी कोर्ट ने फैसले की तारीख 26 सितम्बर तय की है। हालांकि महिला की हत्या हो गई, लेकिन इस मामले में भी महिला का भाई टीटी उर्फ टेकचंद जिंदा है।

पत्नी की हत्या के आरोपी को भेजा जेल, पुलिस से बोला गुस्से में था इसलिए कर दी हत्या