स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

विवाद के चलते दिनभर ताले में रहे ठाकुरजी

Gaurav Kumar Khandelwal

Publish: Oct 07, 2019 07:38 AM | Updated: Oct 07, 2019 07:38 AM

Dausa

Thakurji remained under lock all day due to controversy: देवस्थान विभाग का आदेश पर प्रशासन रहा मौन

गुढ़ाकटला. ग्राम पंचायत ऐचेड़ी के गांव जैतपुरा गांव में पंचायत मन्दिर विवाद के चलते मन्दिर के ठाकुरजी कई घण्टों से ताले में कैद है। इसके चलते मन्दिर में ठाकुरजी की रविवार को पूजा अर्चना भी नहीं हो सकी। जानकारी के अनुसार जैतपुरा गांव के मध्य स्थित ठाकुरजी मन्दिर पर दो पक्षों ने पूजा अर्चना का दावा कर रखा है।

Thakurji remained under lock all day due to controversy

एक पक्ष अपने वर्षों से स्वामित्व एवं देवस्थान विभाग द्वारा सेवादार नियुक्त किए जाने के आधार पर दावा कर रहा है तो दूसरा पक्ष गांव के पंच पटेलों के आधार पर स्वयं को मन्दिर की पूजा अर्चना करने का अधिकार जता रहा है। ऐसे में देव स्थान विभाग से नियुक्त सेवादार विमलेश शर्मा ने नवरात्र के अष्टमी एवं नवमी पर मन्दिर में रामायण पाठ एवं अनुष्ठान की देव स्थान विभाग से अनुमति मांग दूसरे पक्ष को पाबन्द करने की मांग की।

इस पर देव स्थान विभाग के उपशासन सचिव ने उपजिला कलक्टर, जिला कलक्टर को पत्र लिख अनुष्ठान सम्पन्न कराने के निर्देश दिए। देव स्थान विभाग के आदेशों से आश्वस्त होकर एक पक्षकार मन्दिर में अनुष्ठान करने पहुंचा तो दूसरे पक्षकार ने मन्दिर पर ताला लगा दिया। मामला बढ़ता देख प्रशासन नें मौक पर बसवा एवं कोलवा से पुलिस जाप्ता मौके पर भेज दिया।

मन्दिर पर मौजूद एक पक्षकार एवं मन्दिर के बाहर मौजूद स्थानीय ग्रामीण ठाकुरजी की पूजा करने एवं अनुष्ठान के लिए ताला खुलवाने की बार-बार पुलिस प्रशासन से मांग करता रहा, लेकिन बसवा थानाधिकारी दामोदर प्रसाद प्रशासनिक अधिकारी की मौजूदगी के बिना ताला खोलने पर सहमत नहीं हुए। देर शाम तक भी मन्दिर के मुख्य द्वार पर ताला नहीं खोला गया था। मन्दिर पर देवस्थान विभाग द्वारा सेवादार नियुक्त किए जाने वाले पक्षकार विमलेश जोशी का कहना है कि मन्दिर पर नियुक्त पुजारी को दूसरे पक्षकार ने जबरन मारपीट कर मन्दिर से बाहर निकाल ताला लगा दिया। इसके चलते रविवार सवेरे ठाकुरजी की पूजा अर्चना भी नहीं हो सकी।


इनका कहना है:-


जैतपुरा में मन्दिर पूजा के विवाद की जानकारी मिली है। मौके पर बसवा तहसीलदार को स्थिति का जायजा लेने के लिए भेजा गया है। रिपोर्ट के बाद ही आगे की कार्रवाई की जाएगी।
पिंकी मीना उपखण्ड अधिकारी बांदीकुई


इस बारे में कोई निर्देश नहीं मिले हैं। निर्देश मिलने के बाद ही मौके पर जाकर वस्तुस्थिति के बारे में बताया जा सकता है।

ओमप्रकाश गुर्जर तहसीलदार बसवा

Thakurji remained under lock all day due to controversy