स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

बैजूपाड़ा में बाजार बंद रखकर जताया विरोध

Gaurav Kumar Khandelwal

Publish: Sep 18, 2019 18:16 PM | Updated: Sep 18, 2019 18:16 PM

Dausa

Protests were held in Baijupada by keeping the market closed: बैजूपाड़ा को पंचायत समिति नहीं बनाया तो होगा आंदोलन

बैजूपाड़ा (बांदीकुई). उप तहसील मुख्यालय बैजूपाड़ा को नवसृजित पंचायत समिति का दर्जा दिए जाने की मांग तूल पकड़ती जा रही है। इसको लेकर दूसरे दिन बुधवार को भी कस्बे के व्यापारियों ने बाजार बंद रखा। इसके चलते दिनभर सन्नाटा पसरा रहा। लोगों को घरेलू सामान से जुड़ी वस्तुओं के लिए परेशान होना पड़ा। ग्रामीणों ने प्रशासन के खिलाफ नारे लगाकर विरोध प्रदर्शन किया।

Protests were held in Baijupada by keeping the market closed

ग्रामीणों ने बताया कि बांदीकुई उपखण्ड क्षेत्र की 6 ग्राम पंचायतों को महुवा विधानसभा क्षेत्र में जोड़ दिया। इनमें एक पंचायत बैजूपाड़ा भी शामिल है। यहां तहसील मुख्यालय सहित अन्य सरकारी कार्यालय भी संचालित हैं। क्षेत्र के लोगों की पंचायत समिति का दर्जा दिए जाने की लम्बे समय से मांग चली आ रही है, लेकिन अभी तक नवसृजित पंचायत समिति का दर्जा नहीं दिया गया। उन्होंने बताया कि यदि मांग पर सकारात्मक कार्रवाई नहीं हुई तो इन छह पंचायतों के लोग एकजुट होकर आन्दोलन पर उतारू होंगे। इसकी जिम्मेदारी प्रशासन की होगी।

इस मौके पर सरपंच प्यारेलाल बैरवा, कालूराम नोरंगवाड़ा, शिवराम कोठीन, प्यारेलाल मीणा, पूर्व प्रधान हरिकिशन मीणा, कांजी पटेल ढिगारियाभीम, रामनिवास कोठीन, मुकेश कोठीन, जगदीश कंचनपुरा, विश्राम मीणा, कृपाल झूंथाहेड़ा, दीनमोहम्मद खान, नब्बू खां, भूपेन्द्रसिंह, फैलीराम, चरणसिंह ढिगारिया, मुकेश झूंथाहेड़ा, हेमराज, मोनू बैजूपाड़ा, चंदूलाल, राधेश्याम रावत, हरिया पटेल, डॉ.विनोद कुमार एवं गणपसिंह ने भी प्रशासन के खिलाफ धरना देकर विरोध जताया।

Protests were held in Baijupada by keeping the market closed

बसवा में पंचायत समिति नहीं बनी तो आंदोलन


बसवा. कस्बे में पंचायत समिति संघर्ष समिति की बैठक लक्ष्मीनारायण कट्टा की अध्यक्षता में हुई। इसमें बसवा को पंचायत समिति नहीं बनाने पर उग्र आंदोलन करने का निर्णय किया। कट्टा ने कहा कि कस्बे के साथ हर बार सौतेला व्यवहार किया गया।राजस्थान की सबसे बडी ग्राम पंचायत बसवा है। यहां पहले भी पंचायत समिति व नगरपालिका रह चुकी है, लेकिन राजनीतिक कारणों से दोनो ही बांदीकुई चली गई। कस्बे में तीन बैंक, रेलवे स्टेशन, बिजली निगम कार्यालय, डाइट, जलदाय विभाग, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र, पशु चिकित्सालय, पुलिस थाना, पोस्ट ऑफिस है।

आवागमन के लिए अलवर सिकंदरा मेगा हाइवे है व रेलवे स्टेशन है। बसवा कस्बा पंचायत समिति बनने के मापदण्ड पूरा कर रहा है। बसवा में पंचायत समिति बनाने के लिए तेरह लोगों ने पांच दिन तक अनशन किया था, वहीं व्यापारियों ने प्रतिष्ठान बंद रखे थे। इसके बाद जिला कलक्टर ने बसवा को पंचायत समिति बनाने का प्रस्ताव बनाकर भिजवा दिया था। इस मौके पर जिला कांग्रेस कमेटी के महासचिव रमाकान्त मिश्रा, बाबूलाल शर्मा, महासचिव बाबूलाल सैनी, कुन्दनलाल शर्मा, शंकर गुर्जर, डीसी बिन्दा, भाजपा मण्डल अध्यक्ष रामधन मीणा, पं. नरेन्द्र शर्मा, प्रवक्ता मनोहर सोडिया, रामफूल भोपा, पीडी मीणा, रामधन सैनी, सगीर खां, लालाराम परेवा आदि मौजूद थे।