स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

दवा वितरण केन्द्र बंद करने पर मरीजों ने कर दिया हंगामा

Gaurav Kumar Khandelwal

Publish: Aug 21, 2019 08:15 AM | Updated: Aug 21, 2019 08:15 AM

Dausa

Patients created uproar after closing drug delivery center: हंगामा करने पर चिकित्सालय प्रभारी ने पहुंच की समझाइश

बांदीकुई. राजकीय सामुदायिक चिकित्सालय में मंगलवार दोपहर दवा वितरण केन्द्र बंद करने पर मरीजों ने हंगामा कर दिया। मामला बढ़ता देख चिकित्सालय प्रभारी ने मौके पर पहुंच मरीजों को समझाइश कर दवा वितरण केन्द्र खुलवाकर मरीजों को दवा उपलब्ध कराकर मामला शांत किया। जानकारी के अनुसार राजकीय चिकित्सालय सुबह 8 से दोपहर 12 बजे तक खुलता है।

Patients created uproar after closing drug delivery center

 

 

 

इन दिनों मौसम परिवर्तन होने के कारण मरीजों का आउडोर बढ़ गया है और 7 सौ से अधिक पहुंच गया है। ऐसे में मरीजों की संख्या अधिक होने के कारण चिकित्सालय बंद होने तक कतार लगी रही। ऐसे में दवा वितरण केन्द्र पर भी मरीजों कतार लगी रही, लेकिन जैसे ही चिकित्सालय बंद होने का समय हुआ तो दवा वितरण केन्द्र को भी कार्यरत कार्मिकों ने बंद कर दिया और समीप ही संचालित दूसरे केन्द्र पर दवा लेने के लिए कहकर चला गया। इससे मरीजों का आक्रोश फूट गया।

 

 

मरीजों का कहना था कि जब दवा वितरण केन्द्र पर कतार लग रही थी तो सभी मरीजों को दवा वितरण करने के बाद ही केन्द्र को बंद करना चाहिए था, लेकिन मरीजों को कतार में ही छोड़कर वितरण केन््रद बंद कर दिया गया। इससे मरीजों को खासी परेशानी का सामना करना पड़ा। विरोध बढ़ता देख चिकित्सालय प्रभारी जीएल बैरवा ने मौके पर पहुंच मरीजों को समझाइश की और दवा वितरण करवाकर मामला शांत कराया।

 

 

चिकित्सालय प्रभारी ने बताया कि समीप ही एक दवा वितरण केन्द्र दिनभर खुलता है। जबकि जिस काउण्टर पर मरीजों की कतार थी, वह चिकित्सालय समय में ही खुलता है। हालांकि बाद में सभी मरीजों को दवा उपलब्ध करवा दी गई। (ग्रामीण)
Patients created uproar after closing drug delivery center

 

वृद्ध का शव मिला


सिकंदरा. कस्बे के समीप अटकूटी ढाणी में मंगलवार देर शाम को खेत में वृद्ध का शव मिला।परिजनों की सूचना पर पहुंची सिकंदरा थाना पुलिस ने घटना का जायजा लिया। परिजनों ने वृद्ध की हत्या की आशंका जताई है। परिजनों ने मौके पर पुलिस के अधिकारियों से एफएसएल टीम बुलाने की मांग की, लेकिन रात होने के कारण टीम मौके पर नहीं पहुंच पाई। थाना प्रभारी ने बताया कि शाम को 6 बजे मांगीलाल (75) पुत्र रामहेत गुर्जर घर के समीप खेत में गया था। काफी देर तक नहीं लौटने पर परिजनों ने ढूंढा तो वृद्ध का शव खेत में पड़ा मिला। थाना प्रभारी ने बताया कि शव मोर्चरी में रखवाया है। सुबह एफएसएल टीम मौके पर पहुंचकर जांच करेगी।