स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

परशुराम सेना महिला मोर्चा ने दो अनाथ बेटियों को लिया गोद

Rajendra Kumar Jain

Publish: Dec 11, 2019 12:25 PM | Updated: Dec 11, 2019 12:25 PM

Dausa

Parshuram Army Mahila Morcha adopts two orphaned daughters... भरण-पोषण से लेकर शादी तक की ली जिम्मेदारी

दौसा. राष्ट्रीय परशुराम सेना महिला मोर्चा की ओर से स्नेह मिलन, शपथ ग्रहण व वृद्ध महिला सम्मान समारोह जामड़ोली (जयपुर) में प्रदेशाध्यक्ष उर्मिला जोशी की अध्यक्षता में आयोजित हुआ। इसमें दौसा जिले की दो अनाथ बालिकाओं को उनके भरण-पोषण से लेकर शादी तक की जिम्मेदारी ली गई। मुख्य अतिथि राष्ट्रीय परशुराम सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष अनूप दुबे, विशिष्ट अतिथि मनोज त्यागी, मिथलेश पांडेय, सुनील पीढी रहे। इस मौके पर 151 महिलाओं को नियुक्ति पत्र तथा 51 बुजुर्ग माताओं को शॉल ओढ़ाकर सम्मानित किया गया। प्रदेशाध्यक्ष सुनील पीढ़ी ने राष्ट्रीय परशुराम सेना का स्टार प्रचारक यश राजस्थानी को बनाया।

Parshuram Army Mahila Morcha adopts two orphaned daughters... इस मौके पर महिला मोर्चा प्रदेश उपाध्यक्ष सोनिका शर्मा, प्रदेश महामंत्री सुमन कौशिक, रेणुका शर्मा पूजा शर्मा, रेणू मिश्रा, देविका शर्मा, बरखा शर्मा, उमा शर्मा, राजकुमारी शर्मा, अनिता पंडित, बबीता शर्मा, बांदीकुई तहसील अध्यक्ष मीना शर्मा, लालसोट तहसील अध्यक्ष प्रमिला निराला, रोहिताश चतुर्वेदी, प्रदेश उपाध्यक्ष नरेंद्र आर शर्मा, प्रदेश महामंत्री नरेंद्र उपाध्याय, प्रदेश संगठन मंत्री चिराग शर्मा, प्रदेश महासचिव मनीष शर्मा कलसाधा, प्रदेश सचिव ललित पाठक, मनीष विधोलिया आदि मौजूद थे। मंच संचालन मीडिया प्रभारी मोनिका दुबे ने किया।


जर्सी पाकर खिले छात्रों के चेहरे
कुण्डल. कस्बे के राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय में छात्रों को जर्सियां वितरीत की गई। जर्सी पाकर छात्रों के चेहरे खिल उठे। कार्यवाहक प्रधानाचार्य गिर्राज प्रसाद गुर्जर ने बताया कि दौसा निवासी कमला गोयल व चित्रा गोयल ने विद्यालय के कक्षा एक से पांच तक के सभी छात्रों को जर्सियों का वितरण किया गया। राजेन्द्र यादव, केदारप्रसाद मीना, राजेश शर्मा, लालाराम शर्मा आदि मौजूद थे।

मानपुर. राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय संवास में मंगलवार को नि:शुल्क जर्सी वितरण कार्यक्रम हुआ। प्रधानाचार्य कमलेश शर्मा ने कहा कि सरकारी विद्यालयों में भी अब प्राइवेट स्कूलों जैसी सुविधाएं मिलने लगी है।
सरकारी विद्यालयों की ओर अब बच्चों व अभिभावकों का रूझान बढऩे लगा है। एसएमसी अध्यक्ष रामकिशन गुर्जर, प्रधानाध्यापक सुरेन्द्रकुमार मीना ने भी विचार व्यक्त किए।

[MORE_ADVERTISE1]