स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

लाखों के ऑनलाइन टेण्डर में पाई गड़बड़, निरस्त

Gaurav Kumar Khandelwal

Publish: Oct 10, 2019 09:17 AM | Updated: Oct 10, 2019 09:17 AM

Dausa

Mistake found in online tender of Nagar Parishad: नगर परिषद का मामला, निविदा प्रक्रिया में शामिल कार्मिकों की मांगी सूची

दौसा. नगर परिषद में पार्कों के रख-रखाव व संधारण के लिए जारी किए गए लाखों के टेण्डर की जांच में गड़बड़ी पाई गई है। इस पर स्थानीय निकाय विभाग क्षेत्रीय उप निदेशक रेणु खण्डेलवाल ने निविदा को तुरंत प्रभाव से निरस्त कर निविदा से संबंधित उपापन समिति के सदस्यों की सूचना नगर परिषद आयुक्त को पत्र भेजकर तलब की है।

Mistake found in online tender of Nagar Parishad


उपनिदेशक ने अपने पत्र में बताया कि निविदा के संबंध में शिकायत प्राप्त हुई थी। पत्रावली का अवलोकन करने पर पाया गया कि 10 जून 2019 को निविदा खोली गईतथा 9 अगस्त को फर्म को कार्यादेश जारी किया गया। इससे स्पष्ट होता है कि निविदा खोले जाने के 60 दिवस उपरांत निविदा का विनिश्चय किया गया है। जबकि नियमानुसार बोलियों पर निर्णय की अधिकतम समय सीमा 50 दिवस निर्धारित है। ऐसे में निविदा प्रक्रिया नियम विरुद्ध होने के कारण निरस्त योग्य है।


इसके अलावा गत निविदा की शर्तों की तुलना में एवं वर्तमान में आमंत्रित निविदा में कुछ ऐसी शर्तें समाहित की गई है जिससे अधिकतर फर्मों को प्रतियोगिता से दूर रखते हुए फर्म विशेष को लाभान्वित किया जा सके। इसके चलते उपनिदेशक ने निविदा को निरस्त कर प्रक्रिया में शामिल कार्मिकों की सूचना मांग ली है। कार्मिकों की भूमिका गड़बड़ मिली तो उन पर गाज गिर सकती है।


गौरतलब हैकि करीब डेढ़ दर्जन पार्षदों ने नगर परिषद में गड़बड़ी के 15 बिंदुओं की शिकायत आला अधिकारियों को की थी। इनमें से एक बिंदु पार्कों के रखरखाव व संधारण के लिए जारी की गई निविदा से जुड़ी भी थी। सूत्रों ने बताया कि इस मामले में भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने भी जांच शुरू की है।

Mistake found in online tender of Nagar Parishad

झोलाछाप की दुकान सीज, मचा हड़कम्प


लवाण. कस्बे के मुख्य बाजार में चिकित्सा विभाग ने एक झोलाछाप की दुकान को सीज किया। इससे अन्य झोलाछापों में हड़कम्प मच गया तथा दुकानें बंद कर चले गए। टीम ने कुछ दवाओं को भी जब्त किया। ब्लॉक चिकित्सा अधिकारी सीताराम मीणा ने बताया कि झोलाछाप की दुकान पर जांच कर कार्रवाई की है।