स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

वृद्धावस्था पेंशन मेंं लाखों रुपए का गड़बड़झाला

Gaurav Kumar Khandelwal

Publish: Sep 21, 2019 07:58 AM | Updated: Sep 21, 2019 07:58 AM

Dausa

Misappropriation of documents in old age pension for Millions of rupee: दस्तावेजों में हेराफेरी कर अपात्रों को जारी कर दी वृद्धावस्था पेंशन, पंचायत समिति का लिपिक निलंबित

लालसोट. उपखण्ड के ग्रामीण व शहरी क्षेत्र में ईमित्र संचालकों व लिपिकों की मिलीभगत से वृद्धावस्था पेंशन मेंं लाखों रुपए का गड़बड़झाला सामने आया है। इसको लेकर अधिकारियों ने आनन फानन में पंचायत समिति के एक लिपिक को निलंबित कर दिया है। क्षेत्र में प्रतिमाह सैकड़ों अपात्र जनों को वृद्धावस्था व अन्य पेंशन जारी कर प्रतिमाह सरकारी खजाने को लाखों रुपए की चपत लग रही है। इस बारे में जब गुरुवार देर शाम मामले की भनक पंचायत समिति के विकास अधिकारी योगेश मीना को लगी तो पेंशन संबंधी कार्य मेंं अनियमितता केे चलते कनिष्ठ सहायक पप्पूलाल मीना को निलंबित भी कर दिया।

Misappropriation of documents in old age pension for Millions of rupee

28 साल के युवक को 55 साल का बनाया


ई मित्र संचालक चंद रुपयों के लोभ में आधार कार्ड व भामाशाह कार्ड की जन्म तिथि में फेरबदल कर अब तक लाखों रुपए की पेंशन राशि अपात्रों को बंटवा चुके हैं। खटवा गांव निवासी छुट्टनलाल प्रजापत की उम्र आधार कार्ड के अनुसार करीब 28 साल होने के बाद भी उसे 55 साल से अधिक बताकर उसकी पेंशन स्वीकृत हो गई है।

एक ही दिन में निरस्त कर दी 44 पेंशन


सरकारी पेंशन योजनाओं में गड़बड़झाला की जानकारी मिलने पर कर्मचारियों ने अपने बचाव का प्रयास भी किया और गत 11 सितम्बर को एक ही दिन में 44 जनों को पेंशन स्वीकृति को निरस्त कर दिया। जबकि इन अपात्र जनों के बैंक खातों में करीब दो से तीन माह तक पेंशन की रकम भी जमा हो चुकी है। (नि.प्र.)

गड़बड़झाले की कुछ बानगी


केस-1 खटवा गांव निवासी गिर्राज मीना ने अपने भामाशाह कार्ड में जन्मतिथि का संशोधन कराया था। इसके बाद पेंशन के लिए 11 अप्रेल को आनलाइन आवेदन करने के बाद तहसील कार्यालय से 6 जून को सत्यापित करते हुए पंचायत समिति से 12 जून को पेंशन स्वीकृति भी जारी हो गई। इसके बाद 24 जून से लेकर अब तक गिर्राज मीना के बैंक खाते में पेंशन की तीन किश्त जमा भी हो गई। हालांकि बाद में 11 सितम्बर डुप्लीकेट पेंशन बताकर इसे रोक भी दिया गया।

केस-2 खटवा गांव निवासी फैलीराम सैनी ने भामाशाह कार्ड में जन्म तिथि का संशोधन कराया था। पेंशन के लिए 19 मार्च को ऑनलाइन आवेदन करने के बाद तहसील कार्यालय से 2 जून को सत्यापित करते हुए पंचायत समिति से 12 जून को पेंशन स्वीकृति भी जारी हो गई। इसके बाद 24 जून से लेकर अब तक उसके बैंक खाते में पेंशन की तीन किश्त जमा भी हो गई। 11 सितम्बर को आउट ऑफ स्टेट बताकर पेंशन को रोक भी दिया।



केस-3 खटवा गांव निवासी छुट्टनलाल प्रजापत ने भी भामाशाह कार्ड में जन्म तिथि का संशोधन कराकर पेंशन के लिए 30 अप्रेल को आनलाइन आवेदन किया। तहसील कार्यालय से 6 जून को सत्यापित करते हुए पंचायत समिति से 12 जून को पेंशन स्वीकृति भी जारी हो गई। जिसके बाद 24 जून से लेकर अब उसके बैंक खाते में पेंशन की तीन किश्त जमा हो गई। 11 सितम्बर को उसे भी आउट ऑफ स्टेट बता कर पेंशन को रोक दिया गया।

केस-4 खटवा निवासी हरकेश माली ने भी भामाशाह कार्ड में जन्मतिथि का संशोधन कराकर पेंशन के लिए एक जून को आनलाइन आवेदन किया। इसके बाद तहसील कार्यालय से 6 जून को सत्यापित करते हुए पंचायत समिति से 12 जून को पेंशन स्वीकृति भी जारी हो गई। 24 जून से लेकर अब तक उसके बैंक खाते में पेंशन की तीन किश्त जमा भी हो गई। इसके बाद 11 सितम्बर का डुप्लीकेट पेंशन बताकर इसे रोक दिया गया।

केस-5 खटवा गांव निवासी कैलाश माली ने भामाशाह कार्ड में जन्मतिथि का संशोधन कराया था। इसके बाद पेंशन के लिए 30 मई को ऑनलाइन आवेदन कराने पर तहसील कार्यालय से 2 जून को सत्यापित करते हुए पंचायत समिति से 12 जून को पेंशन स्वीकृति भी जारी हो गई। 24 जून से लेकर अब उसके बैंक खाते में पेंशन की तीन किश्त जमा भी हो गई। 11 सितम्बर को डुप्लीकेट पेंशन बताकर इसे रोक दिया गया।



होगी वसूली, दर्ज कराएंगे एफआईआर


अपात्र जनों को वृद्धावस्था पेंशन स्वीकृत करने पर एक कर्मचारी को निलंबित किया है। तीन दिन में जांच में जो भी कर्मचारी दोषी होगा, उससे वसूली की जाकर थाने में प्राथमिकी भी दर्ज कराई जाएगी। इसके अलावा पंचायत समिति के प्रोग्रामर को कूट रचित दस्तावेजों के माध्यम गलत पेंशन जारी करवाने वाले ई मित्र संचालकों के खिलाफ नियमानुसार कार्रवाई होगी।
योगेश मीना, विकास अधिकारी लालसोट



पेंशन आवेदन को रोकने का प्रावधान नहीं
ई मित्र केंद्र द्वारा अपलोड किए गए पेंशन आवेदन को तहसील कार्यालय स्तर पर रोके जाने का प्रावधान नहीं है। दो दिन में आवेदन को पंचायत समिति नहीं भेजा तो वह स्वत: ही द्वितीय लेवल यानी पंचायत समिति पहुंच जाता है।
राजेश मीना तहसीलदार, लालसोट

लालसोट क्षेत्र में पेंशन वितरण आकड़ें एक नजर में
1. विकलांग पेंशन धारक:- 2938
2. वृद्धावस्था पेंशन धारक:- 27588
3. विधवा पेंशन धारक:- 7563
4. कृषक वृद्धजन पेंशन योजना:- 3963

Misappropriation of documents in old age pension for Millions of rupee