स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

मिनी ट्रक पलटा, सडक़ पर फैला दूध

Rajendra Kumar Jain

Publish: Jan 16, 2020 17:39 PM | Updated: Jan 16, 2020 17:39 PM

Dausa

Mini truck overturns, milk spills on the road...राजमार्ग पर आवागमन भी प्रभावित

मेहंदीपुर बालाजी. थाना क्षेत्र में गुरुवार को जयपुर-आगरा राजमार्ग पर दौसा दुग्ध अवशीतन केन्द्र में जा रहा दूध से भरा एक मिनी ट्रक खेड़ापहाड़पुर गांव के पास पलट गया। इससे सैकड़ों लीटर दूध सडक़ पर फैल गया। पुलिस ने बताया कि मिनी ट्रक का संतुलन बिगडऩे से वह राजमार्ग पर पलट गया। इससे मिनी ट्रक में भरी केन के ढक् कन खुलने से मार्ग पर दूध फैल गया। हालांकि घटना में चालक के कोई चोट नहीं आईहै। मेहंदीपुर बालाजी थाना प्रभारी सुरेन्द्र कुमार ने बताया कि हैड कांस्टेबल देवी सिंह ने क्रेन की सहायता से मिनी ट्रक को राजमार्ग से हटाया। इस दौरान कुछ देर के लिए राजमार्ग पर आवागमन भी प्रभावित रहा। यह दूध प्राथमिक दुग्ध उत्पादक सहकारी समितियों का था। जो दौसा अवशीतन केन्द्र के जरिए जयपुर डेयरी में पहुंचता है।

घाटी में फंसा ट्रेलर, हाइवे पर यातायात प्रभावित
लालसोट. शहर से गुजरने वाले एनएच 11 ए हाइवे पर घाटी में सीमेंट के खंभों से भरा एक ट्रेलर चढ़ाई के दौरान नाकाम रहने के बाद अनियत्रिंत हो कर रोड के दोनों तरफ फंस गया।इससे हाइवे पर करीब एक घंटे तक यातायात प्रभावित रहा। दोपहर करीब ढाई बजे सीमेंट के खंभों से भरा एक ट्रेलर लालसोट से दौसा की तरफ जा रहा था।तभी घाटी में चढाई के दौरान यह ट्रेलर नाकाम रहने पर अनियंत्रित होकर रोड के दोनों तरफ फंस गया। इससे हाइवे पर वाहनों की आवाजाही भी थम गई। इस दौरान रोड के पास शेष रही जगह से बाइक व छोटे वाहन तो जैसे तैसे निकलते रहे, लेकिन बड़े वाहनों का आवागमन तो पूरी तरह थम गया और घाटी में दोनों ओर वाहनोंं की कतारें लग गई। मामले की जानकारी मिलने पर मौके लालसोट थाना पुलिस भी पहुंची और क्रेन की मदद से ट्रेेेलर को रोड से एक ओर हटवाने के बाद हाइवे पर यातायात सुचारू कराया।(नि.प्र)

फल-सब्जी पर सर्दी की अधिक मार
- बचाव में लगे किसान
लवाण .
इन दिनों कड़ाके कि सर्दी से सरसों, जौ और गेहंू की फसल में तो फायदा हो रहा है, लेकिन-फल सब्जी की फसलों में सर्दी के अधिक होने से नुकसान भी हो रहा है। किसान कमलेश सैनी और रामकरण बाड्या ने बताया कि ककड़ी, खरबूजा, मतीरा और टिण्डे में सर्दी से नुकसान होने लगा है। पौधे झुलसने लगे हैं। इसके बचाव के लिए पौधों के उपर घांस को खड़ी करके छांव करनी पड़ रही है। जिससे पाला पौधो पर नहीं गिरे। पौधो में पानी देकर नमी भी ज्यादा रखी जा रही है।

[MORE_ADVERTISE1]