स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

मेडिकल कॉलेज : शुरू हो गई श्रेय लेने की राजनीति

Gaurav Kumar Khandelwal

Publish: Sep 21, 2019 08:11 AM | Updated: Sep 21, 2019 08:11 AM

Dausa

Medical College: The politics of taking credit has started:

दौसा. जिला अस्पताल को मेडिकल कॉलेम में क्रमोन्नत करने की प्रक्रिया के लिए 19 सितम्बर को राजस्थान सरकार के निदेशक (जन स्वास्थ्य) चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेवाएं का पत्र जिला अस्पताल के प्रमुख चिकित्सा अधिकारी को जारी होते ही जन प्रतिनिधियों में श्रेय लेने की होड़ मची हुई है। इस मामले में पहले दिन से ही राजनीतिक बयानबाजी शुरू हो गए हैं। वहीं सोशल मीडिया पर भी लोग अलग-अलग नेताओं को श्रेय दे रहे हैं।

Medical College: The politics of taking credit has started

दौसा सांसद जसकौर मीना ने पत्रकारों से कहा कि दौसा में केन्द्र सरकार की ओर से मेडिकल कॉलेज खोलने के लिए प्रपत्र जारी किया गया है। मेडिकल कॉलेज के लिए 60 प्रतिशत राशि केन्द्र देती है और 40 प्रतिशत राÓय सरकार देती है। यदि राÓय सरकार 40 प्रतिशत भी नहीं देगी तो मेडिकल कॉलेज खुलेगा। उन्होंने कहा कि वे किसानों को बहता पानी व पीने के लिए शुद्ध पानी भी उलब्ध कराएगी। किसी भी काम के लिए समय जरूर लगता है। उन्होंने कहा कि तीन महिने में उन्होंने बांदीकुईमें केन्द्रीय विद्यालय व दौसा में मेडिकल कॉलेज खुलवाने की प्रक्रिया चालू करा दी। वे क्षेत्र के विकास के लिए प्रयत्नशील रहेगी। भाजपा कार्यकर्ताओं ने मिठाई खिला कर स्वागत किया।

इधर, जिला कांग्रेस के प्रवक्ता घनश्याम शर्मा ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर बताया कि दौसा में मेडिकल कॉलेज की प्रक्रिया चालू कराने को लेकर नेताओं में होड़ मची हुई है, लेकिन सभी यह बात जानते हैं कि मेडिकल कॉलेज खोलने के काम में राÓय सरकार ही सक्षम है। दौसा विधायक एवं पूर्व मंत्री मुरारीलाल मीना ने दौसा में मेडिकल कॉलेज खुलवाने के की मांग को प्रमुखता से उठाईथी। मुख्यमंत्री व उप मुख्यमंत्री से दौसा में मेडिकल कॉलेज खुलवाने के लिए कई बार मिले। उन्होंने बताया दौसा में मेडिकल कॉलेज खुलवाने का श्रेय मंत्री परसादी लाल मीना, दौसा विधायक मुरारीलाल मीना, बांदीकुई विधायक जीआर खटाणा, मंत्री ममता भूपेश को जाता है।

उधर, दौसा आए मंत्री सुभाष गर्ग ने कहा कि दौसा के साथ कई जिलों में मेडिकल कॉलेज खोलने के लिए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत पहले ही घोषणा कर चुके थे। उन्होंने कहा कि सभी जानते हैं कि मेडिकल कॉलेज खुलवाने का काम राÓय सरकार करती है ना कि केन्द्र। यहां के स्थानीय विधायकों ने इसके लिए भरसक प्रयास कर रखे थे।

Medical College: The politics of taking credit has started